DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विनिवेश की तैयारी कर रहा है केंद्र: माकपा

विनिवेश की तैयारी कर रहा है केंद्र: माकपा

संप्रग सरकार पर विभिन्न क्षेत्रों में नव उदारवादी सुधार लागू करने का आरोप लगाते हुए मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने कहा है कि केन्द्र एनटीपीसी जैसी नवरत्न कंपनियों सहित मुनाफा देने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की इकाईयों के विनिवेश की तैयारी कर रहा है।

माकपा ने दावा किया कि सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र के कुछ बैंकों को नई पूंजी देने के लिए विश्व बैंक से दो अरब डॉलर का ऋण लिया है और विश्व बैंक की शर्तों के चलते यह सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के शेयरों के विनिवेश की शुरूआत है।

पार्टी के मुखपत्र लोकलहर के ताजा अंक में कहा गया कि केन्द्र सरकार एनटीपीसी जैसी नवरत्न कंपनियों सहित मुनाफा देने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों का विनिवेश करने की तैयारी कर रही है।

सरकार द्वारा प्रस्तावित प्रत्यक्ष कर कोड विधेयक की आलोचना करते हुए कहा गया कि इसमें अनेक प्रतिकूल प्रावधान हैं, जिससे राजस्व में भारी नुकसान होगा। विधेयक में निगमित कर दर को 30 प्रतिशत से घटाकर 25 प्रतिशत करने और संपत्ति कर तथा पूंजी लाभ कर की दर में कटौती जैसे दूसरे कदम उठाने तथा करदाताओं के ऊपरी वर्ग को और ज्यादा राहत देने का प्रस्ताव है।

पार्टी ने कहा कि संप्रग सरकार चाहती है कि करों में कटौती के जरिए अमीर और अमीर बने हैं।  इससे सामाजिक कल्याणकारी कदमों के फंड के लिए संसाधन जुटाने में उसकी प्रतिबद्धता की कमी खुलकर सामने आ जाती है।

लोकलहर में कहा गया कि संप्रग सरकार अनेक क्षेत्रों में नव उदारवादी सुधार लागू करने की प्रक्रिया में भी लगी है। बीमा क्षेत्र में एफडीआई की सीमा में संशोधन करने और उच्च शिक्षा में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) की इजाजत देने के लिए कानून बनाने का प्रस्ताव इन्हीं में से एक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विनिवेश की तैयारी कर रहा है केंद्र: माकपा