DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मस्त रहो, स्वस्थ रहो

मस्त रहो, स्वस्थ रहो

है कोई ऐसा, जिसे किसी तरह की चिंता या तनाव न हो? यह सवाल पूछने पर शायद ही कोई होगा, जो सामने आए। तात्पर्य यह है, जिंदगी है तो तनाव है, परेशानियां हैं, पर साथ ही उनका समाधान भी है। ‘कई बातें हैं, जिनको अमल में लाकर अपनी दिनचर्या को एक खास ढंग में ढालकर तनाव को कम किया जा सकता है, ताकि हमारी जिंदगी पर इसका नकारात्मक असर न हो और हम स्वस्थ और फिट रह सकें।’ कहते हैं हार्ट स्पेशलिस्ट स्वप्न सहाय।

सकारात्मक सोच: तनाव को कम करने में सकारात्मक सोच की अहम भूमिका है। तमाम परेशानियों के बावजूद अगर आप अपने आत्मविश्वास को बनाए रखेंगे और सोचेंगे कि आखिरकार देर से ही सही, उजाला तो होगा ही, तो ऐसी सोच आपके तनाव को स्वाभाविक रूप से कम कर देती है।

अकेले न रहें: परिस्थितियां अगर तनावग्रस्त हों तो ऐसे में अकेले रहने से बचें। इससे आपकी चिंता और बढ़ने लगती है, क्योंकि आप सिर्फ अपनी परेशानियों के बारे में ही सोचते रहते हैं। अपनी बातें आप अपने किसी नजदीकी से शेयर करें।

आराम भी जरूरी: जिंदगी में जितना जरूरी काम है, उतना ही जरूरी आराम भी है, इसलिए दिनचर्या ऐसी बनाएं कि काम के बाद आराम का भी आपको भरपूर अवसर मिले। साथ ही मनोरंजन का भी ध्यान रखें, इससे आप तनाव से दूर रहेंगे।

व्यायाम और आहार: अगर मानसिक तनाव से दूर रहना चाहते हैं तो शारीरिक व्यायाम को अपना दोस्त बना लीजिए। नियमित एक्सरसाइज आपके तन-मन को तरोताजा रखती है। रोजाना सुबह करीब आधे घंटे की सैर आपको फिट बनाए रखती है। अपने खान-पान का भी ख्याल रखें। खाने में तेल-मसाले कम खाएं। ये आपकी उत्तेजना को बढ़ाते हैं, जिससे तनाव होता है।

मुस्कराते रहें: विपरीत परिस्थितियों में भी मुस्कराते रहें। इससे शरीर शिथिल नहीं पड़ता और स्फूर्ति हमेशा बनी रहती है। जबरदस्ती हंसने से भी मन-मस्तिष्क पर अच्छा असर पड़ता है, जिससे फिट रहने में मदद मिलती है।        

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मस्त रहो, स्वस्थ रहो