अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवाज ने तोड़ दी नजरबंदी

पाकिस्तान में राजनीतिक संकट गहराता जा रहा है। रविवार को सरकार के नजरबंदी के आदेश का उल्लंघन कर पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपने हाारों समर्थकों के साथ इस्लामाबाद की ओर रवाना हो गए, जहां वह सोमवार को सामूहिक धरने पर बैठेंगे। शरीफ के साथ भारी भीड़ को देखते हुए पुलिस भी कोई कार्रवाई करने से कतरा रही है।ड्ढr ड्ढr इस बीच, ऐसी खबरं भी आ रही हैं कि पंजाब प्रांत के आईजीपी और कई अन्य वरिष्ठ अधिकारी पद से इस्तीफा देकर संविधान की बहाली की मांग को लेकर निकाले गए इस लांग मार्च में शामिल हो गए हैं। सरकार से दो-दो हाथ करने पर उतारू पीएमएल (एन) अध्यक्ष नवाज शरीफ ने घर में नजरबंदी के आदेश को ठुकरा दिया। इस लांग मार्च को पाकिस्तान का सबसे बड़ा सरकार विरोधी आंदोलन माना जा रहा है।ड्ढr ड्ढr पंजाब प्रांत की राजधानी में कई स्थानों पर प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़पें होने की खबरं मिली हैं। बताया जाता है कि पंजाब के अटार्नी जनरल ने भी पद से त्यागपत्र दे दिया है। उधर, नवाज शरीफ के भाई शाहबाज भी नजरबंदी के आदेश के तामील होने से पहले ही पुलिस को चकमा देकर कहीं छिप गए। प्रदर्शन में शामिल वकील और पीएमएल-एन के समर्थक वर्ष 2007 में तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ द्वारा बर्खास्त जजों की बहाली की मांग कर रहे हैं। इस आंदोलन ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है और नवाज शरीफ द्वारा नजरबंदी के आदेश को मानने से इनकार करने के बाद इसके और भड़कने की आशंका है।ड्ढr ड्ढr मॉडल टाउन स्थित अपने आवास पर शरीफ ने लोगों से पाबंदियों को तोड़कर लांग मार्च में शामिल होने का अनुरोध किया। शरीफ समर्थकों का कहना है कि सरकार ने नवाज और उनके भाई शाहबाज शरीफ को तीन दिन के लिए उनके घर में नजरबंद करने का आदेश दिया है। हालात पर काबू पाने के लिए सरकार की कोशिशें जारी हैं। प्रधानमंत्री यूसुफ राा गिलानी ने तनाव कम करने के लिए सेना प्रमुख अशफाक गिलानी से बातचीत की। इस राष्ट्रव्यापी आंदोलन से निपटने के लिए सरकार ने काफी तैयारी की हुई है। सेना को भी सतर्क रहने को कहा गया है। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सेना की मदद भी ली जा सकती है।ड्ढr ड्ढr हालांकि देर रात आंतरिक सुरक्षा पर प्रधानमंत्री गिलानी के सलाहकार रहमान मलिक ने कहा कि सरकार लांग मार्च को नहीं रोकेगी। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पुलिस ने रावलंपिडीं शहर में बार एसोसिएशन के कार्यालय को सील कर दिया है और इस्लामाबाद को जोड़ने वाली सडक पर बड़े बड़े परिवहन कंटेनर्स खडे कर दिए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नवाज ने तोड़ दी नजरबंदी