DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना शर्त पाकिस्तान को रक्षा सहायता: हॉलब्रूक

बिना शर्त पाकिस्तान को रक्षा सहायता: हॉलब्रूक

पाकिस्तान और अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष दूत रिचर्ड हॉलब्रूक ने कहा है कि पाकिस्तान को सैन्य सहायता संबंधी नए विधेयक में 'केवल अमेरिकी जरूरतों' पर ध्यान दिया गया है और इसमें इस्लामाबाद पर शर्ते नहीं थोपी गई हैं।

अमेरिकी सैन्य सहायता का उपयोग भारत का मुकाबला करने से रोकने के लिए पाकिस्तान पर कडी़ शर्ते लगाने संबंधी मुद्दे पर किसी नए विवाद से बचने के लिए ऐसा कहा गया है।

हॉलब्रूक ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि पाकिस्तान पर कोई शर्त नहीं थोपी गई है लेकिन उसमें हमारी जरूरतें बताई गई हैं। उन्होंने कहा कि अब के सभी विधेयकों में और पिछले करीब 30 वर्षो से कांग्रेस अपनी जरूरतों को रखती है। यह निक्सन-किसिंजर युग से ही जारी है। हॉलब्रूक ने कहा कि पाकिस्तान में कुछ लोगों ने जानबूझ कर इसे विकृत तरीके से पेश किया है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को अमेरिकी कांग्रेस ने 680 अरब डॉलर के रक्षा खर्च को मंजूरी दी। इसमें पाकिस्तान को 2.3 अरब डॉलर की रक्षा सहायता भी शामिल है। परंतु इसके साथ ही यह शर्त भी शामिल है कि ओबामा प्रशासन हर छह महीने पर यह रिपोर्ट देगा कि पाकिस्तान तालिबान से लड़ाई के स्थान पर सैन्य सहायता को भारत के मुकाबले के लिए नहीं मोड़ रहा है।

हॉलब्रूक ने कहा कि विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन अमेरिकी सहायता पर चर्चा के लिए कुछ दिनों के भीतर पाकिस्तान के दौरे पर जाएंगी। सुरक्षा कारणों से अमेरिकी अधिकारियों ने हिलेरी के कार्यक्रम की कोई जानकारी नहीं दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिना शर्त पाकिस्तान को रक्षा सहायता: हॉलब्रूक