DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जौनपुर में अपहरण कर बालक की हत्या

नगर कोतवाली क्षेत्र के ख्वाजगीटोला निवासी एक बालक का अपहरण कर बदमाशों ने उसकी हत्या कर दी। बालक का शव शुक्रवार की सुबह राजा साहब के पोखरे पर रेलवे लाइन के किनारे झाड़ी में मिला। इस मामले में पुलिस एक महिला समेत दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। पुलिस अधीक्षक व अपर पुलिस अधीक्षक ने भी मौके पर पहुंच कर छानबीन की। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में देर शाम तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हुई थी।

ख्वाजगीटोला निवासी अली अब्बास और उनका पूरा परिवार गुरुवार की रात सदर चुंगी स्थित इमामबाड़े में आयोजित मजलिस में गया था। रात में साढ़े दस बजे मजलिस खत्म होने पर अली अब्बास का पूरा परिवार घर लौट आया, लेकिन उनका 12 वर्षीय बेटा सैफ अब्बास नहीं आया। घर के लोगों ने कुछ देर तक इंतजार किया, लेकिन सैफ के न लौटने पर आसपास के क्षेत्रों में उसकी काफी तलाश की। सैफ का कहीं पता नहीं चला तो घर वालों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

पुलिस कुछ कर पाती इससे पहले ही शुक्रवार की सुबह घर वालों को पता चला कि सैफ की हत्या कर दी गयी है और उसका शव राजा साहब के पोखरे पर रेलवे लाइन के किनारे झाड़ी में पड़ा हुआ है। सैफ के मुंह से खून निकला हुआ था और गले में प्लास्टिक की रस्सी पड़ी थी। उसकी पैंट का बेल्ट खुला था। शव को देखने से लग रहा था कि बदमाशों ने बेरहमी से पिटाई करने के बाद गले में रस्सी कसकर उसकी हत्या की होगी।

जानकारी मिलते ही कोतवाल धर्मेश कुमार, सरायपोख्ता के चौकी प्रभारी योगेन्द्र बहादुर व सिपाह के चौकी प्रभारी रूपेश कुमार के साथ मौके पर पहुंच गये। इसबीच एएसपी नगर राहुलराज भी वहां पहुंचे और सैफ के परिजनों से पूछताछ की। घर वालों ने बताया कि पड़ोसी शहजादे और उसकी पत्नी यास्मीन तथा शकीला ने धमकी दी थी कि उनके तीन बेटों में एक नहीं रहेगा।

एएसपी ने धमकी देने का कारण पूछा तो सैफ के चाचा ने बताया पड़ोसी होने की वजह से कुछ विवाद हो गया था। इस पर पुलिस ने शहजादे व यास्मीन को हिरासत में ले लिया है। बाद में पुलिस अधीक्षक रामभरोसे भी आये और मृतक के चाचा से घटना की जानकारी ली।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जौनपुर में अपहरण कर बालक की हत्या