DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई से बेकसूरों को खतरा:माकपा

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने नक्सलियों के खिलाफ केंद्र सरकार के प्रस्तावित अभियान पर चिंता जताते हुए कहा है कि इससे निर्दोषों की जान को भी खतरा हो सकता है।

 मध्यप्रदेश के पूर्व सांसद और वरिष्ठ माकपा नेता भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने आज संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई शुरु होने के बाद उनके आम जनता के बीच छुपने का अंदेशा है। अगर ऐसा होता है तो स्थिति और भी गंभीर हो जाएगी। उन्होंने सरकार से अभियान के दौरान संयम बरतने की अपील की।

 मेहता ने स्पष्ट किया कि उनकी पार्टी हिंसा अथवा असामाजिक गतिविधियों में विश्वास नहीं करती। सरकार नक्सलियों के खिलाफ इतना बडा अभियान शुरु करने की योजना बना रही है लेकिन देश को लूटने वाले भ्रष्ट राजनेताओं के खिलाफ कोई कदम नहीं उठा रही। मेहता ने आरोप लगाया कि असामाजिक तत्वों को आगे बढाने में इन भ्रष्ट राजनेताओं की भी अहम भूमिका है।
 
चुनाव पूर्ण गठबंधन के बारे में मेहता ने कहा कि उनकी पार्टी केवल समान सोच वाले दलों के साथ हाथ मिलाएगी। उन्होंने बताया कि इस संबंध में राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के साथ बातचीत चल रही है। उन्होंने साफ किया कि भारतीय जनता पार्टी अथवा कांग्रेस के साथ जाने का प्रश्न ही नहीं उठता। माकपा नेता ने आरोप लगाया कि राजभवन अब कांग्रेस भवन बन गया है। उन्होंने कहा कि उन्हें राज्यपाल से नहीं मिलने दिया गया। उनके अनुसार राज्यपाल सिर्फ कांग्रेस नेताओं से ही मिलते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई से बेकसूरों को खतरा:माकपा