DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेशी मेहमानों ने शहर में दी दस्तक

विदेशी पक्षियों ने शहर का रुख करना शुरू कर दिया है। तिलपत गांव की झील में सायबेरियन पक्षियों की चहचहाहट सुनाई देने लगी है। अभी इनकी संख्या कम है, लेकिन नवंबर के पहले सप्ताह तक काफी संख्या में इनके आने की उम्मीद हैं। वन्यप्राणी जीव विभाग ने भी इन पर नजर रखना शुरू कर दिया है।

सर्दी के आगाज के साथ हर साल ये विदेशी मेहमान भारत का रुख करते हैं। फरीदाबाद में इन पक्षियों की पसंदीदा जगह है तिलपत गांव में बनी झील। पहले सायबेरियन पक्षी सूरजकुंड, बड़खल झील, होडल और पलवल के कई जोहड़ व तालाबों मे रहने आया करते थे। पर इन जगहों का पानी सूखने के चलते विदेशी पक्षियों ने यहां आना बंद कर दिया। इस बार बड़खल झील के थोड़े हिस्से में पानी भरा है। उम्मीद है कि यहां ये मेहमान बसेरा बना सकते हैं। ये पक्षी पाकिस्तान के रास्ते भारत में आते हैं।

वन्यप्राणी जीव विभाग के इंस्पेक्टर डालचंद सागर ने बताया कि कुछ सालों पहले तक 15 से 20 हजार सायबेरियन पक्षी फरीदाबाद में आया करते थे। लेकिन पानी की कमी के कारण इनकी संख्या घटकर 7 से 8 हजार के बीच रह गई है। फिलहाल लगभग 400 पक्षी तिलपत गांव की झील में भारतीय मौसम का आनंद ले रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विदेशी मेहमानों ने शहर में दी दस्तक