DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

350 करोड़ रुपए की नौ योजनाओं को मंजूरी

राष्ट्रमंडल खेलों से पहले डीटीसी के चार नए डिपो बनेंगे। इनमें 710 बसें खड़ी की जा सकेंगी। दिल्ली सरकार  ने सड़कों, स्ट्रीट लाइट्स व आईआईआईटी परिसर के निर्माण से जुड़ी करीब 350 करोड़ रुपए की नौ योजनाओं को मंजूरी दे दी। इसमें पांच पीडब्ल्यूडी, दो शहरी विकास, एक परिवहन तथा एक प्रशिक्षण व तकनीकी शिक्षा की है।

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की अध्यक्षता में शुक्रवार को व्यय वित्त समिति की बैठक में इन योजनाओं को मंजूरी दी गई। बाद में मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं को बताया कि मंजूर की गई योजनाओं में अधिकांश अगले साल होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों से जुड़ी हुई हैं। डीटीसी के चार नए डिपो गांव मलिकपुर, बक्करवाला, दौराला और दिचाऊंकला-दो में बनाए जाएंगे। डिपो के निर्माण पर 114 करोड़ 40 लाख रुपए का खर्च आएगा और यह काम नौ माह में पूरा होगा।

ओखला फेज-तीन में आईआईआईटी ( इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ इंफरमेशन टेक्नोलॉजी) का नया परिसर बनाया जाएगा। इसके लिए सौ करोड़ रुपए मंजूर किए गए हैं। यह काम 18 माह में पूरा होगा। इसके लिए जीबी पंत पोलिटेकनिक परिसर ओखला के साथ दिल्ली सरकार ने 25 एकड़ भूमि मुहैया कराई है। इसका नया परिसर 39 हजार 61 वर्गमीटर में होगा। आईटी की क्षमता 600 छात्रों की होगी। इसमें 480 स्नातक और 120 स्नातकोत्तर स्तर की सीटें होगीं।

अन्य मंजूर परियोजनाओं में 10.88 करोड़ रुपए की लागत से एमसीडी रोड को बेहतर और मजबूत किया जाएगा। एमसीडी को 61 करोड़ रुपए की राशि 50 सड़कों की 157 किलोमीटर लंबाई पर स्ट्रीट लाइट्स को सुधारने के लिए दी जाएगी। एमसीडी पूसा रोड पर दयाल चौक से सिद्धार्थ होटल, शंकर रोड से अपर रिग रोड और वंदेमातरम मार्ग पर धौला कुंआ से दयाल चौक तक सड़क को मजबूत और बेहतर बनाएगी। लोक निर्माण विभाग की सड़कों से जुड़ी पांच परियोजनाओं के लिए 64 करोड़ रुपए दिए गए हैं। इस काम को सात से आठ माह में पूरा कर लिया जाएगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:350 करोड़ रुपए की नौ योजनाओं को मंजूरी