DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास यादव को बहन की शादी के लिए जमानत

विकास यादव को बहन की शादी के लिए जमानत

दिल्ली हाई कोर्ट ने नीतीश कटारा हत्याकांड मामले में उम्र कैद की सजा काट रहे विकास यादव को शुक्रवार को अंतरिम जमानत देने से इंकार कर लिया लेकिन उसे उसकी बहन के विवाह में, न्यायिक हिरासत में रहते हुए शामिल होने की अनुमति दे दी।

न्यायमूर्ति अनिल कुमार और न्यायमूर्ति विपिन सांघी की एक पीठ ने उत्तर प्रदेश के विवादास्पद राजनीतिज्ञ डी पी यादव के पुत्र विकास को एक नवंबर को विवाह समारोह में शाम पांच बजे से अगले दिन सुबह बहिन की विदा होकर अपने पति के घर चले जाने तक, भाग लेने की अनुमति दे दी।

अदालत ने पुलिस अधिकारियों को विवाह समारोह के दौरान सादे कपड़ों में विकास के साथ रहने का आदेश दिया है। विकास ने विवाह समारोह में शामिल होने तथा दुल्हन का बड़ा भाई होने के नाते विभिन्न रस्में निभाने के लिए तीन माह की अंतरिम जमानत मांगी थी।

पिछले साल 28 मई को विकास और उसके चचेरे भाई विशाल को एक आईएएस अधिकारी के पुत्र नीतीश कटारा की 2002 में हत्या करने का दोषी ठहराया गया था और उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी। विकास और विशाल को अपनी बहन भारती के नीतीश कटारा के साथ अंतरंग संबंध पसंद नहीं थे।

निचली अदालत ने विकास और विशाल को नीतीश की हत्या के लिए दोषी ठहराते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई थी। दोनों ने निचली अदालत के फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील की जो अभी लंबित है।

विकास को दिल्ली हाई कोर्ट ने मॉडल जेसिका लाल हत्याकांड मामले में भी दोषी ठहराया है। इस मामले में उसे सबूत नष्ट करने का दोषी ठहराया गया और चार साल कैद की सजा सुनाई जा चुकी है।

विकास और विशाल ने नीतीश का 17-18 फरवरी 2002 की रात को गाजियाबाद में एक विवाह समारोह से अपहरण किया था और फिर उसकी हत्या कर दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विकास यादव को बहन की शादी के लिए जमानत