DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एशियन इंडोर खेलों से हंपी ने नाम वापस लिया

एशियन इंडोर खेलों से हंपी ने नाम वापस लिया

विदेश मंत्रालय की गलती के कारण भारतीय वुशू टीम के कनाडा न जा पाने के एक दिन बाद ही अखिल भारतीय शतरंज संघ (एआईसीएफ) के असहयोगपूर्ण रवैए से क्षुब्ध महिला ग्रैंड मास्टर कोनेरू हंपी ने वियतनाम में 30 अक्टूबर से आठ नवंबर तक होने वाले एशियाई इंडोर खेलों से गुरुवार को अपना नाम वापस ले लिया।

हंपी ने कहा एआईसीएफ के सचिव डीवी सुंदर के असहयोगात्मक रवैए के कारण मुझे तत्काल प्रभाव से टूर्नामेंट से अपना नाम वापस लेने के लिए मजबूर होना पडा। महिला ग्रैंड मास्टर ने कहा कि एआईसीएफ सचिव ने उन पर काफी दबाव डाला है जिसकी वजह से पिछले कुछ दिनों से वह काफी दबाव महसूस कर रहीं हैं। उन्होंने कहा कि इतनी प्रतिष्ठित प्रतियोगिता से अपना नाम वापस लेने के बाद वह काफी निराश हैं।

अर्जुन पुरस्कार विजेता हंपी ने कहा कि इस प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए आयोजकों की सहमति मिलने के बाद उन्होंने भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) से अनुरोध किया था कि उनके द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता पिता कोनेरू अशोक को उनका प्रशिक्षक नियुक्त किया जाए। आईओए ने उनकी मांग पर गौर करते हुए एआईसीएफ से इस बारे में पत्र प्राप्त करने के लिए कहा था। लेकिन जब इस बारे में हंपी ने सुंदर से बात की तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। हंपी ने कहा कि जब उनके पिता ने एआईसीएफ सचिव से इस बारे में अनुरोध किया तो उन्होंने मना कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एशियन इंडोर खेलों से हंपी ने नाम वापस लिया