DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समुद्री डाकुओं ने जहाज अगवा किया, अपहृतों में 24 भारतीय

समुद्री डाकुओं ने जहाज अगवा किया, अपहृतों में 24 भारतीय

सोमालिया के जल दस्युओं ने गुरूवार को सेशल्स के समीप पनामा का एक जहाज अगवा कर चालक दल के कम से कम 24 भारतीय सदस्यों को बंधक बना लिया। समुद्री निगरानी करने वाले अंतरराष्ट्रीय सामुद्रिक ब्यूरो के जल दस्यु विभाग के प्रमुख नोएल चोंग ने यहां बताया कि 22,000 टन वजनी मालवाहक जहाज एमवी अल खलीक को सोमालिया में अगवा कर लिया गया।
     
उत्तरी सेशल्स में इटली के 32,000 टन वजनी एक अन्य जहाज जोली रोस्सो को भी समुद्री दस्युओं ने निशाना बनाने की कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हो सके। एएफपी ने लंदन स्थित नाटो के समुद्री दस्यु निरोधी मिशन की एक प्रवक्ता के हवाले से कहा है कि जहाज पर चालक दल के 26 सदस्य सवार हैं जिनमें से 24 लोग भारत और दो बर्मा के हैं। अल खलीक पर समुद्री डाकुओं ने जब कब्जा जमाया, उस समय नाटो का जहाज सोमालिया के समुद्र में आठ घंटे की दूरी पर था।

यूरोपीय संघ के जलदस्यु निरोधी नौसैनिक बल ने एक बयान में कहा कि अपहरण की इस वारदात को सेशल्स के पश्चिम में 180 समुद्री मील की दूरी पर अंजाम दिया गया। इसमें कहा गया है कि जहाज पर छह लुटेरे सवार हैं और दो हमलावर नौका जहाज के साथ चल रही हैं।

उल्लेखनीय है कि इस वर्ष के पहले नौ महीनों में दुनियाभर में जहाजों पर 306 हमले हुए हैं जिनमें से आधे से ज्यादा हमले सोमालिया के दुर्दान्त समुद्री लुटेरे ने किए हैं। कम से कम दो भारतीय बंधक अभी भी उनके कब्जे में हैं। अंतरराष्ट्रीय सामुद्रिक ब्यूरो (आईएमबी) का कहना है कि वर्ष 2008 के मुकाबले इस वर्ष के पहले नौ माह में जहाजों पर हमलें की वारदातें बढ़ी हैं। बीते साल कुल 293 हमले हुए थे जबकि इस वर्ष अभी तक 306 हमले हो चुके हैं।
     
अदन की खाड़ी में जहाजों पर हमले की ज्यादातर घटनाओं के लिए युदधग्रस्त सोमालिया के लुटेरों को जिम्मेदार ठहराया जता है। सोमालिया के तट पर इस साल हमले और अपहरण की 47 वारदातें हुई जबकि बीते साल यह संख्या 12 थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समुद्री डाकुओं ने जहाज अगवा किया, अपहृतों में 24 भारतीय