DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जेल के किरदार का था इंतजार

जेल के किरदार का था इंतजार

कंधे के आपरेशन के कारण काफी लंबे समय से फिल्मों से दूर रहने वाले अभिनेता मनोज वाजपेयी मधुर भंडारकर की चर्चित फिल्म जेल से अपनी वापसी कर रहे हैं।

दमदार भूमिका और लीक से अलग हटकर भूमिका निभाने वाले वाजपेयी ने कहा कि यह फिल्म जेल के अंदर की कहानी बयान करती है। वाजपेयी ने कहा कि जरा उस व्यक्ति के बारे में सोचिए, जिसे जेल जाना पड़ता है और उससे जुडे़ सभी लोगों की जिंदगी रातोंरात बदल जाती है।

उन्होंने कहा कि मेरे मुताबिक भंडारकर ने बहुत ही बेहतरीन तरीके से जेल की जिंदगी को अपने कैमरे में कैद किया है। लीक से हटकर भूमिका निभाने के लिए जाने जाने वाले वाजपेयी हैदराबाद में एक तेलगू फिल्म की शूटिंग के दौरान घायल हो गये थे। अपने छोटे से फिल्मी करियर में दो राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने वाले अभिनेता ने कहा कि वो समय मेरे जीवन का काफी अवसाद भरा था। मानसिक शांति के लिए मैंने योग पर और ध्यान किया। मैं जिस भूमिका का इंतजार कर रहा था भंडारकर उसी भूमिका को लेकर मेरे पास आये।

हालांकि, फिल्म के प्रचार अभियान में वाजपेयी को ज्यादा शामिल नहीं किया जाता है, लेकिन जब इस बाबत उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा, फिल्म का निर्देशक मुझे सरप्राइज पैकेज के तौर पर पेश करना चाहता है। दरअसल जेल फिल्म की कहानी प्रराग दीक्षित [नील नीतिन मुकेश] के आस पास धूमती है, जिसके पास सब कुछ है। एक अच्छी नौकरी, खूबसूरत प्रेमिका और अपना घर लेकिन कुछ दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं के कारण वह अपने आप को जेल में पाता है। फिल्म छह नवंबर को रिलीज होनी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जेल के किरदार का था इंतजार