DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खाने की चीजें मंहगी, मुद्रास्फीति 1.21 फीसदी

खाने की चीजें मंहगी, मुद्रास्फीति 1.21 फीसदी

प्रमुख खाद्य पदार्थों की कीमत में बढ़ोतरी के मद्देनजर 10 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह के दौरान मुद्रास्फीति बढ़कर 1.21 फीसदी हो गई। इसके पिछले सप्ताह थोक मूल्य आधारित सूचकांक 0.92 फीसदी पर था।
  
मुद्रास्फीति लगातार पांच सप्ताह तक एक फीसदी और 13 सप्ताह तक शून्य से नीचे रहने के बाद अब एक फीसदी से ऊपर पहुंच गई। प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार समिति समेत अन्य विशेषज्ञों को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष के अंत तक मुद्रास्फीति छह फीसद तक पहुंच जाएगी।

समीक्षाधीन अवधि में समुद्री मछली की कीमतें औसतन 14 फीसदी, मूंग पांच फीसदी, चावल तीन फीसदी और उड़द तथा अरहर की कीमतें एक-एक फीसदी बढ गईं। इस दौरान फल एवं सब्जियों में एक-एक फीसदी की गिरावट हुई।

मुद्रास्फीति में तेजी का असर रिजर्व बैंक द्वारा 27 अक्टूबर को की जाने वाली मौद्रिक समीक्षा की घोषणा पर पड़ेगा। हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि रिजर्व बैंक ब्याज दरों पर यथास्थिति बरकरार रखेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खाने की चीजें मंहगी, मुद्रास्फीति 1.21 फीसदी