DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डाट के कार्यालय पर सीबीआई का छापा

डाट के कार्यालय पर सीबीआई का छापा

सीबीआई ने कई नई कंपनियों को 2जी मोबाइल फोन सेवाओं के लिए रेडियो तरंगों के आवंटन में कथित अनियमितता के आरोपों के मददेनजर आज दूरसंचार विभाग [डाट] के कार्यालय में अचानक तलाशियां ली।

सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि इस बारे कल शाम मामला दर्ज किया गया था। सूत्रों ने कहा कि सीबीआई का दल संचार भवन में छानबीन कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि उन्होंने कहा कि जनवरी, 2008 में नए लाइसेंसधारकों को स्पेक्ट्रम आवंटन के रिकार्ड को खंगाला जाएगा, ताकि यह पता चल सके कि स्पेक्ट्रम आवंटन में किसी तरह की अनियमितता तो नहीं हुई थी। इस बारे में डाट के किसी अधिकारी से संपर्क नहीं हो पाया।

2008 में आठ नई कंपनियों को मोबाइल सेवा शुरू करने के लिए लाइसेंस के साथ 4.4 मेगाहटर्ज स्पेक्ट्रम का आवंटन किया गया था। दूरसंचार मंत्रालय पर यह आरोप लगा था कि उसने बाजार मूल्य से कम पर स्पेक्ट्रम का आवंटन किया है। सीवीसी ने इस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की थी।

दो नई कंपनियों यूनिटेक वायरलेस सर्विसेज तथा स्वान टेलीकाम द्वारा लाइसेंस मिलने के कुछ दिन बाद ही अपनी कुछ हिस्सेदारी बेच दी गई थी, जिससे इस प्रक्रिया पर सवाल उठने लगे थे। सरकार ने देशभर में सेवा प्रदान करने के लिए दिए गए लाइसेंस के साथ स्पेक्ट्रम का आवंटन 1,651 करोड़ रुपये में किया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डाट के कार्यालय पर सीबीआई का छापा