DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रेल हादसे की जांच सीबीआई करेगी: ममता

रेल हादसे की जांच सीबीआई करेगी: ममता

मथुरा के निकट गोवा संपर्क क्रांति और मेवाड़ एक्सप्रेस में कल हुई टक्कर के बारे में मिल रही विरोधाभासी खबरों के बीच रेलमंत्री ममता बनर्जी ने घटना की सीबीआई जांच कराने का ऐलान किया।

रेल मंत्री ने कहा कि घटना के पीछे आम कारणों के अलावा कुछ और भी हो सकता है, ऐसे में दोषियों को सजा सुनिश्चित कराने के लिए घटना की सीबीआई जांच कराई जाएगी। ममता ने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद यहां संवाददाताओं से कहा कि दुर्घटना की गंभीरता को देखते हुए मैंने फैसला किया है कि इसकी सीबीआई से जांच कराई जाए।

रेल मंत्री ने माहेश्वरी अस्पताल और मेथोडिस्ट अस्पताल जाकर वहां भर्ती घायलों से मुलाकात की और अधिकारियों को मरीजों को हर प्रकार की सहूलियत देने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि रेलवे घायलों के इलाज का पूरा खर्च उठाएगा। कल हुई इस भीषण दुर्घटना में 22 व्यक्ति मारे गए और इतने ही घायल हो गए थे।

उन्होंने इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि हादसे को लेकर कई प्रकार के सवाल उठ रहे हैं, जिनपर ध्यान दिया जाना बेहद जरूरी है। कोई कह रहा है कि चेन खींचने से यह हादसा हुआ जबकि कुछ और लोग कह रहे हैं कि सिगनल में खराबी थी। यह आपराधिक घटना भी हो सकती है। इसलिए हमने तय किया है कि इस मामले की सीबीआई जांच कराई जाए।

ममता ने कहा कि हम सभी पहलुओं पर ध्यान दे रहे हैं। यह बहुत ही भीषण दुर्घटना है। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि सभी दोषी व्यक्तियों को सजा मिले। इसीलिए हम सीबीआई जांच कराएंगे। एक सवाल के जवाब में उन्होंने जांच के नतीजे सामने आने तक किसी भी कर्मचारी या अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने से साफ इंकार कर दिया और कहा कि जांच के नतीजे आने के बाद दोषी को कडी़ से कडी़ सजा दी जाएगी।

घटना के बाद घायलों को राहत पहुंचाने के लिए रेल मंत्री ने स्थानीय नागरिकों, स्वयंसेवी संगठनों, सैनिकों, पुलिसकर्मियों, रेलकर्मियों और सुरक्षाबलों के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों तथा घायलों को नियमानुसार आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

संवाददाताओं द्वारा रेल दुर्घटना रोकने के लिए ट्रेनों में लगाए जाने वाले एंटी कोलाइजन डिवाइस [एसीडी] लगाने की बात पर ममता ने कहा कि फिलहाल उक्त उपकरण का प्रयोग तीन ट्रेनों में किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इनके परिणाम आने अभी बाकी हैं और अगर यह सकारात्मक रहा तो इसके लिए निर्णय लिया जाएगा। ट्रेनों में भिडंत के वक्त झटके सह लेने लायक डिब्बे लगाने के सवाल पर रेलमंत्री ने कहा कि ऐसा करने के लिए अत्यधिक धन की आवश्यकता है, इसलिए रेलवे अभी यह सुविधा मुहैया कराने में सक्षम नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रेल हादसे की जांच सीबीआई करेगी: ममता