DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फूटा गुस्सा, जल संस्थान के जोन कार्यालय में तालाबंदी

दूषित जलापूर्ति व सीवर लाइन बंद होने से खफा कीडगंज व चौखण्डी क्षेत्र के निवासियों का धैर्य बुधवार को टूट गया। उन्होंने बाई का बाग स्थित जल संस्थान के जोन वन- ए कार्यालय में तालाबंद कर धरना दिया। जिससे कार्यालय का काम प्रभावित हुआ मगर लोगों का आक्रोश देखते हुए जल संस्थान के अधिकारी धरना समाप्त कराने की हिम्मत नहीं जुटा सके। मौके पर महापौर चौधरी जितेन्द्र नाथ सिंह पहुँचे। उनके आश्वासन पर धरना समाप्त हुआ और कार्यालय का ताला खोला गया।

चौखण्डी, कीडगंज, पूरा वल्दी, खलासी लाइन, नई बस्ती आदि इलाकों में दूषित जलापूर्ति के खिलाफ लोग एकजुट हो गए। कई दिनों से पेयजल व्यवस्था दुरुस्त करने की माँग पर कार्रवाई न होने से लोगों का आक्रोश फूट पड़ा। वे जल संस्थान के जोनल कार्यालय पर पूर्वाह्न् करीब दस बजे पहुँचे और तालाबंदी कर दी। जिसके कारण अधिकारी व कर्मचारी कार्यालय में नहीं जा सके। पूर्व पार्षद रमेश मिश्र के नेतृत्व में लोगों ने तालाबंदी के बाद धरना दिया।

उन्होंने नई बस्ती कीडगंज स्थित मनोहर लाल भार्गव रोड की सीवर लाइन खोलने की माँग की। सीवर लाइन बंद होने तथा नाला चोक होने से इलाके की विभिन्न गलियों में गन्दा पानी भरने के साथ ही दूषित जलापूर्ति हो रही है। मिश्र ने चेतावनी दी कि यदि सीवर लाइन नहीं खुली तो जोन वन के कार्यालय में तालाबंदी करके इलाके में सीवर तथा जलकर की वसूली बंद करा दी जाएगी।

बाद में मौके पर महापौर चौधरी जितेन्द्र नाथ सिंह पहुँचे। उनके आश्वासन के बाद धरना समाप्त हुआ। धरने में श्याम काला पण्डा, मिंक्री पण्डा, अशोक मिश्र, सुनील पण्डा, नन्हू निषाद, नीरज त्रिपाठी समेत महिलाएँ भी शामिल रहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फूटा गुस्सा, जल संस्थान के जोन कार्यालय में तालाबंदी