DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

होटल मैनेजमेंट के छात्र ने जहर खाया

होटल मैनेजमेंट के एक छात्र ने सल्फास की गोलियां खाकर आत्महत्या कर ली। वह कई महीनों से डिप्रेशन में था और एनआईटी के मनोचिकित्सक के पास इसका इलाज चल रहा था। छात्र की जान बचाने के लिए उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

एनआईटी थाना क्षेत्र के सेक्टर-21बी के सुभाष कुमार चावला का बेटा चैतन्य (22) दिल्ली के अशोका टूरिज्म इंस्टीटयूट से होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रहा था। चावला एस्कॉर्ट के ट्रैक्टर डिवीजन में नौकरी करते हैं, जबकि पत्नी रेखा एस्कॉर्ट अस्पताल में नर्स हैं। चावला के मुताबिक डिप्रेशन के चलते चैतन्य काफी दिनों से कॉलेज नहीं जा रहा था। उसका इलाज नेहरु ग्राउंड के डॉ मुद्रा के पास चल रहा था।
मंगलवार सुबह साढ़े नौ बजे चैतन्य ने उनके मोबाइल पर फोनकर जहर खाने की बात बताई। इस पर जब वे अपने कुछ साथियों के साथ घर पहुंचे, तो वह उल्टियां कर रहा था। उसे एस्कॉर्ट अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना के समय दंपति ड्यूटी पर चले गए थे। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पोस्टमॉर्टम कराकर परिजनों को सौप दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:होटल मैनेजमेंट के छात्र ने जहर खाया