DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विषाक्त भोजन व चाय पीने से तीन मासूम मरे

मुजफ्फरनगर और सहारनपुर में अलग-अलग घटनाओं में विषाक्त भोजन और चाय पीने से तीन मासूमों की जान चली गई। इन घटनाओं में तीन की हालत गंभीर बनी हुई है। प्रशासन या स्वास्थ्य विभाग ने भोजन या चाय का सेंपल नहीं लिया गया, जिससे घटना की वजहों का पता चल सके।  

मुजफ्फरनगर में यह घटना भोपा के भोकरहेड़ी में नफीस के परिवार में घटी। बताया गया है कि मंगलवार रात नफीस की बीवी मोहसिना ने आलू की सब्जी और रोटियां बनाई। रात में नफीस और उसके दो बेटे मंगता (9) और इकबाल (4) खाना खाकर सो गए।

आधी रात के बाद नफीस और उसके दोनों बच्चों को पेट दर्द की शिकायत हुई और उल्टी होने लगी। सुबह तक इकबाल ने दम तोड़ दिया। जानकारी होने पर पड़ोसी नफीस और मंगता को पीएचसी ले गए, जहां उपचार न मिलने पर शहर ले जाया गया, लेकिन रास्ते में मंगता ने भी दम तोड़ दिया। शहर के निजी अस्पताल में नफीस की हालत भी चिंताजनक है। दूसरी घटना सहारनपुर के मिर्जापुर में तासीन के यहां हुई। बताया गया है कि तासीन की पत्नी मायके गई थी।

बुधवार सुबह उसकी 12 वर्षीय बेटी फिरतोश ने चाय बनाई। तासीन व फिरतोश के अलावा उसकी छोटी बेटी तमन्ना ने चाय पी। चाय पीने के कुछ देर बाद तीनों को चक्कर आने लगे और वह बेहोश होकर नीचे गिर पड़े। कुछ ही देर बाद तासीन की तीसरी बेटी पांच वर्षीय समन्ना ने पिता और बहनों को बेहोश देखा, उसकी चीख सुनकर आस-पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे।

तीनों को जिला चिकित्सालय ले जाया गया, वहां तमन्ना की मौत हो गई जबकि तासीन व फिरतोश की हालत चिंताजनक है। लोगों का कहना था कि घटना की सूचना पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को दे दी गई थी। लेकिन किसी विभाग के अधिकारियों ने मौके से सेंपल नहीं लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विषाक्त भोजन व चाय पीने से तीन मासूम मरे