DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्र 2010-11 में पीजी प्रोग्राम में बढ़ेंगी सीटें

इंडियन इंस्टीटय़ूट ऑफ मैनेजमेण्ट (आईआईएम) लखनऊ में सत्र 2010-11 से पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम  में सीटें बढ़ायी जाएंगी। इसके लिए आईआईएमएल ने तैयारियॉं करनी शुरू कर दी है। इसे ओबीसी कोटे  की सीटों में समायोजित किया जाएगा। सीटें बढ़ाए जाने के कारण शिक्षकों की संख्या में भी इजाफा किया जाएगा।आईआईएम लखनऊ के निदेशक प्रो. देवी सिंह ने बताया कि पोस्ट ग्रेजुएट प्रोग्राम में कुल 55 सीटें बढ़ाई जाएंगी। अभी सीटों की संख्या कुल 370 है इसे अगले सत्र में बढ़ाकर 425 कर दिया जाएगा।

बढ़ी हुई सीटों को मानव संसाधन विकास मंत्रलय के निर्देशानुसार ओबीसी कोटे की सीटों में समायोजित किया जाएगा। इन 55 सीटों में से 28 सीटें ओबीसी कोटे के छात्रों की झोली में जाएंगी। आईआईएम की रीव्यू कमेटी में सीटों की इस बढ़ोत्तरी पर अपनी मुहर लगा चुकी है। 190 सीटें सामान्य वर्ग के छात्रों के लिए व बाकी सीटें एससी-एसटी व ओबीसी की हैं।

सीटों में होने वाली बढ़ोत्तरी को देखते हुए शिक्षकों की संख्या में भी इजाफा किया जाएगा। इस साल के अंत तक शिक्षकों की संख्या 70 से बढ़ाकर 80 तक कर दी जाएगी। ताकि छात्रों को गुणवत्तापरक शिक्षा आसानी से दी जा सके।

यही नहीं नए सत्र में फाइनेन्स विषय में पीजी कोर्स शुरू किया जाएगा। यह कोर्स आईआईएम लखनऊ मैकग्रिल यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर शुरू करेगा। इसमें छात्रों को दोनों ही संस्थान मिलकर फाइनेन्स के बारे में शिक्षा देंगे। मैकग्रिल यूनिवर्सिटी छात्रों को डिग्री देगी। आईआईएम लखनऊ का नोएडा सेण्टर एग्जिक्यूटिव ट्रेनिंग का हब बनाया जाएगा। जहॉं पर इन प्रोफेशनल के लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सत्र 2010-11 में पीजी प्रोग्राम में बढ़ेंगी सीटें