DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक: जज ने सुनवाई से अलग होने की इच्छा जताई

पाक: जज ने सुनवाई से अलग होने की इच्छा जताई

मुंबई में हुए आतंकवादी हमलों में संलिप्तता के आरोप में पाकिस्तानी पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए सात संदिग्धों के मामले की सुनवाई कर रहे जज ने कहा है कि वह सुनवाई से अलग होना चाहते हैं।

आतंकवाद निरोधक अदालत के जज बाकिर अली राणा ने अपरिहार्य कारणों का हवाला देते हुए लाहौर हाई कोर्ट को मंगलवार को एक औपचारिक अनुरोध पत्र भेज कर कहा है कि उन्हें मामले की सुनवाई से अलग कर दिया जाए।

राणा रावलपिंडी में उच्च सुरक्षा वाली अदियाला जेल में इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं। अधिकारियों ने बताया कि यह अनुरोध वर्तमान में प्रधान न्यायमूर्ति के कार्यालय में लंबित है।

बहरहाल, सूत्रों ने बताया कि राणा मानते हैं कि सात संदिग्धों के खिलाफ सुनवाई को लेकर सरकार और अन्य वर्गों की ओर से उन पर दबाव है जिसके चलते उन्होंने यह फैसला किया।

इन सात संदिग्धों में लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख कर्ताधर्ता जकीउर रहमान लखवी और जरार शाह शामिल हैं। सूत्रों ने बताया कि राणा पर सातों संदिग्धों के वकीलों की ओर से दबाव पड़ा रहा है जो बंद कमरे में सुनवाई किए जाने को लेकर नाखुश हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक: जज ने सुनवाई से अलग होने की इच्छा जताई