DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नूरनगर इंटीग्रेटिड टाउनशिप से प्रभावित जीडीए अफसर

नूरनगर इंटीग्रेटिड टाउनशिप के पास जीडीए भी अपनी आवासीय स्कीम लाएगा। लगभग सात सौ एकड़ में आवासीय कॉलोनी के अलावा व्यावसायिक स्कीम भी आएगी। फाइलों में इसकी कवायद शुरू हो गई है। प्लानिंग अगर साकार हो गई, तो बहुमंजिले अपार्टमेंट की नगरी के पास ही विकास प्राधिकरण की कॉलोनी में मध्य वर्ग के लोग अपना आशियाना बना सकते हैं।
जीडीए की इस प्लानिंग पर तेजी से फाइलों पर काम हो रहा है। भू-अर्जन विंग की ओर से नूरनगर व आसपास के पांच गांवों की लगभग छह-सात सौ एकड़ जमीन के अधिग्रहण की फाइल तैयार हो रही है। जीडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि दरअसल मेरठ-दिल्ली रोड़ एनएच-58 और निर्माण के अंतिम चरण में पहुंच गए हिंडन हाईवे की कनेक्टिविटी के कारण यह इलाका भविष्य में जबरदस्त हॉट रहेगा। यहां पर कई हजार वर्गमीटर में बिल्डरों की टाउनशिप पर तेजी से काम चल रहा है। दस-ग्यारह मंजिले कई अपार्टमेंट बनकर तैयार हैं। उच्च क्षमता का मॉर्डन पावर सबस्टेशन व सीवर ट्रीटमेंट प्लांट प्रस्तावित है।
जीडीए का मानना है कि जब टाउनशिप के डेवलपमेंट का पूरा जाल अथॉरिटी को बिछाना है, तो अपनी स्कीम क्यों न लाई जाए? इसी मकसद से जमीन अर्जन के लिए प्रस्ताव प्रशासन को भेजा गया है। चार लेन से छह लेन का जाल पूरे इलाके में बिछाने का काम शुरू है। इंटरनल सड़कें भी 45 से 60 फीट चौड़ी प्रस्तावित हैं।
जीडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि इलाके के पहले दौरे के बाद ही भू-अर्जन विंग को आवासीय कॉलोनी के लिए पांच से सात सौ एकड़ जमीन अधिग्रहण करने की फाइलें तैयार करने को निर्देशित किया गया है।

क्या हैं खास बातें-
-छह हजार एकड़ में प्रस्तावति है टाउनशिप
-अब तक 19 बिल्डरों को मिले हैं लाइसेंस
-अजनारा,केडीपी रिवर हाइट हैं प्रमुख बिल्डर
-25 एकड़ में 220 केवीए का पावर सबस्टेशन
-110 एमएलडी क्षमता की एसटीपी प्रस्तावित
-सड़कों के जाल बिछाने की तैयारी तेजी से

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नूरनगर इंटीग्रेटिड टाउनशिप से प्रभावित जीडीए अफसर