DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

29वां अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला

प्रगति मैदान में होने वाले 29वें अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले के लिए इस बार कई तब्दीलियां की गई हैं। आगामी 14 से 27 नवम्बर तक दिल्ली में आयोजित मेले में शुरु के पांच दिन सिर्फ व्यापारिक प्रतिनिधि ही प्रगति मैदान के मंडप घूम सकेंगे। आम आदमी 19 नवम्बर से प्रगति मैदान में प्रवेश कर सकेगा। यह पहला मौका है जब मेला शुरु होने के पांच दिन बाद आम आदमी मेले में प्रवेश कर सकेगा।


अभी तक लगे व्यापार मेलों में विदेशी व भारतीय व्यापारिक प्रतिनिधियों के  लिए 14 से 27 नवम्बर तक प्रतिदिन सुबह साढ़े सात बजे से 12 बजे तक का समय सुनिश्चित था। इस बार पहले पांच दिन सुबह साढ़े 9 से रात साढ़े सात बजे तक व्यवसायिक प्रतिनिधियों के लिए ही मेले की गतिविधियां आरक्षित की गई हैं।

 हर साल करीब 30 लाख लोग अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले को देखने प्रगति मैदान पहुंचते हैं। इस बार पहली बार लोग प्रगति मैदान पहुंचने के लिए दिल्ली मेट्रो के यमुना बैंक स्टेशन का लाभ उठा सकेंगे। बीते साल मेट्रो की मदद से एक दिन में एक लाख से अधिक लोग मेला देखने आ-जा सके  थे। मेले में इस साल हर रोज़ टिकटों का रंग बदला हुआ होगा। देश-विदेश के व्यवसायिक प्रतिनिधियों को  मेला क्षेत्र में प्रवेश के लिए 400 रुपये चुकाने होंगे। भारतीय दर्शकों के लिए सामान्य दिनों में बालिगों के लिए 30 और बच्चों के लिए 20 रुपये का टिकट होगा। लेकिन शनिवार, रविवार और अवकाश के दिन में टिकट के लिए 60 और 30 रुपये चुकाने होंगे।

दिल्ली अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में इस बार चीन फोकस देश होगा। मेले के सहयोगी देश के रूप में थाईलैंड का मंडप सजेगा जबकि दिल्ली राज्य के मंडप को कामनवेल्थ खेलों की थीम पर सजेगा। खेलों की तैयारियों का झरोखा दिल्ली सरकार अपने मंडप में पेश करेगी। मेले में जर्मनी,चीन, इंग्लैंड, कोरिया, जापान, थाईलैंड, भूटान, रूस, पाकिस्तान और फ्रांस सहित 40 से अधिक देशों सहित स्थानीय कारोबारी कंपनियों के 5500 प्रतिभागी अपने उत्पाद प्रदर्शित करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:29वां अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला