DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौकस रहें सैन्य कमांडर : मनमोहन

चौकस रहें सैन्य कमांडर : मनमोहन

चीन के साथ संबंधों को पेचीदा करार देते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सैन्य कमांडरों को आगाह किया कि वे सीमा पर चौकस रहें। मंगलवार को प्रधानमंत्री तीनों सेनाओं के कमांडरों के संयुक्त सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे।

डॉ. सिंह ने कहा कि भारत और चीन के बीच राजनीतिक भरोसा कायम करने की प्रक्रिया चल रही है। सीमा विवाद का समाधान होने में अभी समय लगेगा। हमें चौकस रहना होगा। सीमावर्ती क्षेत्र में आवश्यक ढांचागत विकास की प्रक्रिया जारी रखनी होगी। प्रधानमंत्री ने सभी पड़ोसी देशों के साथ संबंधों और प्रमुख अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर राय जाहिर की।

रक्षा मंत्री एके एंटनी, गृहमंत्री पी चिदम्बरम और वित्तमंत्री प्रणव मुखर्जी के अलावा थल सेना, वायुसेना और नौसेना प्रमुख सम्मेलन में मौजूद रहे। अफगानिस्तान की बिगड़ती स्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इलाका तालिबान के फिर से जिंदा होने का मैदान बन गया है।

डॉ. सिंह ने कहा कि वह रूस के साथ सामरिक संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के लिए दिसम्बर में मास्को जाएंगे। जबकि अमेरिका यात्रा के दौरान वह भविष्य के संबंधों की रूपरेखा तैयार करेंगे।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चौकस रहें सैन्य कमांडर : मनमोहन