DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध निर्माण के खिलाफ लोगों ने रोष जताया

लोहियापुरम के एक अवैध निर्माण के मामले में महिला मंच की पदाधिकारियों के साथ स्थानीय महिलाओं ने जोरदार विरोध दर्ज कराया। प्राधिकरण उपाध्यक्ष के समक्ष किए गए हंगामे के दौरान स्थिति तनावपूर्ण होती देख डालनवाला पुलिस को बुलाया गया। महिलाओं को लोहियापुरम बस्ती क्षेत्र में प्राधिकरण के दखल पर एतराज रहा। इस पर प्राधिकरण उपाध्यक्ष ने अधिशासी अभियंता को भूमि स्वामित्व के बाबत जांच के आदेश दिए।


महिला मंच से जुड़ी कार्यकत्रियों के नेतृत्व में लोहियापुरम नई बस्ती की महिलाएं मंगलवार को प्राधिकरण कार्यालय पहुंची। प्राधिकरण उपाध्यक्ष आरके सुधांशू के समक्ष महिलाओं ने लोहियापुरम में चिंतामणि पालीवाल के घर को ध्वस्त किए जाने के फैसले पर विरोध दर्ज कराया। महिला मंच संयोजिका कमला पंत व निर्मला बिष्ट ने कहा कि मलिन बस्ती क्षेत्र में चिंतामणि पालीवाल अपनी झाेपड़ी का निर्माण कर रहे थे, लेकिन उसे ध्वस्त किए जाने के आदेश दिए गए हैं। महिलाओं ने अतिक्रमण अभियान में भेदभाव बरते जाने का आरोप लगाया और अभियान में बड़े व रसूखदारों को रियायत देने का आरोप मढ़ा।


महिलाओं के बढ़ते विरोध पर सख्त एतराज जताते हुए प्राधिकरण उपाध्यक्ष आरके सुधांशू ने शांत होने को कहा, लेकिन हंगामा बढ़ता देख उन्होंने डालनवाला पुलिस को महिला फोर्स के साथ बुलाया। डालनवाला से पुलिस के पहुंचने पर महिलाएं भड़क उठी। तनाव बढ़ता देख प्राधिकरण उपाध्यक्ष ने भूमि के मलिन बस्ती क्षेत्र में शामिल होने के मामले में अधिशासी अभियंता को जांच के आदेश दिए। इस मौके पर सचिव एमडीडीए उमेश चंद कबड़वाल को भी मौके की जांच के आदेश दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अवैध निर्माण के खिलाफ लोगों ने रोष जताया