DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

3जी में देरी के लिए रक्षा मंत्रालय दोषी : राजा

3जी में देरी के लिए रक्षा मंत्रालय दोषी : राजा

दूरसंचार मंत्री ए राजा ने देश में 3जी मोबाइल सेवाओं को लागू करने के लिए वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी का दरवाजा खटखटाया है। राजा ने 3जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में देरी के लिए रक्षा मंत्रालय के रवैए को जिम्मेदार ठहराया है।

उन्होंने कहा है कि वित्त मंत्री को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए। रक्षा मंत्रालय ने सिर्फ वही 3जी स्पेक्ट्रम छोड़ने का फैसला किया है, जिसकी नीलामी की जानी है। इसमें भी मंत्रालय स्पेक्ट्रम छोड़ने का काम कई चरणों में करना चाहता है। वास्तव में सेनाओं ने पहले से इस्तेमाल किया जा रहा कोई स्पेक्ट्रम अब तक मुक्त नहीं किया है जबकि उन्हें दूरसंचार विभाग [डाट] के साथ हुए करार के तहत वह स्पेक्ट्रम छोड़ देना चाहिए था।

वित्त मंत्री को लिखे पत्र में राजा ने कहा है कि रक्षा मंत्रालय का रवैया स्पेक्ट्रम के बारे में अधिकार प्राप्त मंत्री समूह के निर्णयों के खिलाफ है। इसके कारण 3जी स्पेक्ट्रम की नीलामी समय से नहीं हो पा रही है। उन्होंने कहा कि यदि इस मसले को जल्द नहीं सुलझाया गया तो मैं समझता हूं कि 3जी की नीलामी से जिस आय की उम्मीद की जा रही थी, वह पूरी नहीं होगी।

3जी स्पेक्ट्रम या रेडियो तरंगों की नीलामी की प्रक्रिया इस साल के अंत तक पूरी की जानी है पर दूरसंचार मंत्रालय अब तक इसके लिए आवश्यक सूचनाओं का दस्तावेज, बोली लगाने वालों की पात्रता के नियम तथा नीलामी के नियमों आदि का निर्धारण नहीं कर सकता है। मुखर्जी को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि कृपया इसमें आप हस्तक्षेप करें ताकि 3जी के लिए स्पेक्ट्रम की नीलामी का काम इस वर्ष के अंत तक पूरा किया जा सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:3जी में देरी के लिए रक्षा मंत्रालय दोषी : राजा