DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आप भी सिल सकती हैं गरीबी की चादर

आप भी सिल सकती हैं गरीबी की चादर

कई बार महिलाओं के जीवन में ऐसी स्थिति आती है कि उन्हें न चाहते हुए भी मजबूरी में काम करना पड़ता है। खेल-खेल में या पारंपरिक रूप में सीखे गए काम कई बार मुसीबत के समय काम आते हैं। अब आप सिलाई-कढ़ाई को ही ले लीजिए, ये एक ऐसा काम है, जिससे केवल घर में ही पैसों की बचत नहीं होती, बल्कि यह कमाई का जरिया भी बन सकता है। लक्ष्मी नगर में रहने वाली अनीता गुप्ता ने इसी काम को अपनी रोजी-रोटी का साधन बनाया। और वह इससे अपने बच्चों का पालन पोषण भी कर रही हैं। वह बताती हैं कि पति की मृत्यु से पहले मैं सिलाई-कढ़ाई का काम सिर्फ टाइम पास के लिए करती थी, लेकिन अब वक्त की मार के कारण मुङो इस काम को पूरा समय देना होता है। मैं 6-7 घंटे तक सिलाई का काम करती हूं। लेकिन सोचती हूं कि अगर मुङो सिलाई भी न आती तो मैं क्या करती? बेशक अनीता को परिस्थितियोंवश इस काम को करना पड़ता है, लेकिन यदि आप चाहें तो आप भी इस काम से कमाई का अच्छा जरिया बना सकती हैं।

रोजगार
यह एक ऐसा काम है, जिसके लिए इधर-उधर भटकने की आवश्यकता नहीं पड़ती। इस काम के अंतर्गत सोफे के कवर, थैले, साड़ी की पीको-फॉल, ब्लाउज-पेटीकोट आदि सिले ज सकते हैं। इस काम को करते-करते आप किसी बुटीक में भी काम कर सकती हैं और ठेके पर काम घर भी ला सकती हैं।
 
किससे मिलें
इसके लिए आप अपने आसपास की महिलाओं से संपर्क बना कर उन्हें अपने काम के बारे में बता सकती हैं। यही नहीं, आप अपने आसपास के ही किसी बुटीक  से भी संपर्क कर सकती हैं। अगर संभव हो तो आप बुटीक के बाहर अपनी सिलाई मशीन भी लगा सकती हैं।

संभावनाएं
अगर आप अपना काम कॉन्फिडेंट होकर कर सकती हैं और आपके हाथ में सफाई है तो इस रोजगार में आपके लिए काफी संभावनाएं हैं। इस रोजगार में आप अपना स्वयं का बुटीक भी खोल सकती हैं या फिर किसी बुटीक में जाकर काम भी कर सकती हैं।

ट्रेनिंग
आप सिलाई से संबंधित काम अपने पास के किसी बुटीक से या टेलर ये सीख सकती हैं। यदि आप प्रोफेशनल ट्रेनिंग लेना चाहती हैं तो किसी भी वोकेशनल इंस्टीट्यूट से 3 या 6 महीने का शॉर्ट टर्म कोर्स कर सकती हैं।

कमाई
इस क्षेत्र में कमाई आपकी क्षमता पर निर्भर करती है। यदि आप सिर्फ साड़ी पर पीको या फॉल लगाने जैसे छोटे-छोटे काम करती हैं तो इसमें अधिक कमाई नहीं है। लेकिन यदि आप सूट सिलती हैं या ब्लाउज-पेटीकोट और सोफे के कवर आदि सिलने का काम भी ले लेती हैं तो आपकी अच्छी खासी कमाई हो सकती है। आप महीने में कम से कम 3 से 4 हजार रुपये कमा सकती हैं।
 
कच्चा माल
अगर आप सिलाई से संबंधित सामान एक साथ लाती हैं और साथ ही कुछ सामान जैसे फॉल, झलर, लास्टिक, सुई, रील आदि भी अपने पास रखती हैं तो आपको यह सारा सामान सस्ता पड़ेगा व साथ ही आप सिलाई से संबंधित सामान को कम लागत में लाकर अधिक रुपयों में बेच भी सकती हैं।इस तरह का काम करके आप अपने समय का सही उपयोग तो करती ही हैं, साथ ही आप अपने परिवार को आर्थिक रूप से मजबूत करने का काम भी करती हैं।

क्या करें
किसी काम को करने का जो समय दिया है, उसे समय पर करें।
अगर कोई बेहद जरूरी काम आता है तो उसे प्राथमिकता दें।
लोगों के संपर्क में रहें।
अपने काम में दक्षता लाने के लिए लगातार अभ्यास करें।
काम में लगातार बढ़ोतरी करने की कोशिश करती रहें।
काम उतना ही लें, जितना करने की क्षमता हो।
काम सफाई से और मन लगा कर करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आप भी सिल सकती हैं गरीबी की चादर