DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा निरस्त नहीं हुई तो आंदोलन तेज होगा

टीजीटी परीक्षा निरस्त कराने की माँग को लेकर अभ्यर्थियों का माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड पर 14 वें दिन सोमवार को भी क्रमिक अनशन जारी रहा। ऑल इण्डिया स्टूडेण्ट्स एसोसिएशन (आइसा) और अभ्यर्थियों ने शासन से माँग की कि जब पर्चा आउट हो गया है तो परीक्षा निरस्त की जाए। उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि परीक्षा निरस्त नहीं हुई तो आन्दोलन और तेज किया जाएगा।

आइसा के प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील मौर्य ने कहा कि चयन बोर्ड अभ्यर्थियों के भविष्य और प्रतिभा के साथ खिलवाड़ कर रहा है। इससे परेशान होकर अभ्यर्थी दिवाली मनाने घर नहीं गए। मामले में शासन को सीधे हस्तक्षेप कर परीक्षा को निरस्त कर देना चाहिए। साथ ही चयन बोर्ड के अध्यक्ष को भी हटा देना चाहिए।

धरना-प्रदर्शन में त्रिभुवन सिंह, राघवेन्द्र, आरपी गौतम, भैयाराम यादव, श्री प्रकाश नारायण सिंह, राम किशुन, राज कुमार मौर्य, लालचन्द्र मौर्य, कमलेश , शशीकान्त, प्रदीप कुमार, टीएन पाण्डेय, रन्जय कु मार सिंह, कन्हैया सिंह, शशिकान्त यादव सहित बड़ी संख्या में अभ्यर्थी और आइसा कार्यकर्ता मौजूद रहे। उधर, अभ्यर्थियों ने शाम को इविवि के  डेलीगेसी में जाकर आन्दोलन को तेज करने के लिए छात्रों से समर्थन माँगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षा निरस्त नहीं हुई तो आंदोलन तेज होगा