DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बढ़ें आप, रोग नहीं

उम्र बढ़ने के साथ जोड़ों के दर्द व उनकी मूवमेंट्स में कमी, वात व कई अन्य रोगों की आशंका बढ़ जाती है। जीवनशैली में आ रहे बदलावों के कारण युवा भी इन परेशानियों की चपेट में आ रहे हैं। ऐसे में यह स्वीकार कर लेना ही समस्याओं का हल नहीं है। इसके लिए जरूरी है कम उम्र से ही स्वास्थ्य के प्रति सतर्कता। कुछ ऐसे ही उपाय जिन्हें अपना कर आप कई बीमारियों को रोक सकते हैं।

आराम और व्यायाम : व्यस्तताएं जीवनभर बनी रहेंगी। इन्हें बहाना न बनाएं। काम और आराम में उचित संतुलन बनाए रखें। नियमित व्यायाम से स्वस्थ और मजबूत मांसपेशियां, जोड़ों का सही हलन-चलन और लचक बरकरार रखने में मदद मिलती है। यही नहीं व्यायाम करने से अच्छी नींद, दर्द में कमी, सकारात्मक दृष्टिकोण और नियंत्रित वजन आदि लाभ भी होते हैं।

स्वास्थ्यवर्धक आहार : अच्छी सेहत के लिए  संतुलित आहार बेहद जरूरी है। अपने आहार में फाइबर और ताजा मौसमी फलों की प्रचुरता बनाएं रखें। जहां तक संभव हो अनप्रोसेस्ड फूड को तरजीह दें। उम्र और कद के अनुरूप डाइट अपनाने की कोशिश करें।

मोटापे से रहें दूर : आर्थराइटिस, रक्तचाप आदि कई ऐसे रोग हैं जो मोटापा बढ़ने के साथ और गंभीर रूप धारण कर लेते हैं। अधिक वजन का सीधा सा मतलब है आपके हिप्स, घुटने व तमाम जोड़ों पर अधिक दबाव। इसके लिए अपने लाइफ स्टाइल में बदलाव लाएं।

योजना बनाएं : व्यवस्थित होने की कोशिश करें। मतलब यह है कि कार्यो को इस तरह करें कि सभी जरूरी काम सही समय पर पूरे हो सकें। जरूरी है दैनिक कार्यों की योजना बनाना। प्राथमिकता के अनुसार कार्य करें। एक कार्य पूरा कर दूसरे कार्य की ओर बढ़ें। संभव है सभी कार्य आपकी योजना के अनुसार पूरे न हों। इससेतनाव में ना आएं। योजना में आवश्यक बदलाव भी करते रहें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बढ़ें आप, रोग नहीं