DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंगलवार को बंद रहेगा गोपेश्वर बाजार

अश्लील सीडी मामले में विरोध प्रदर्शन करने वाले व्यापारियों और छात्रों पर फर्जी मुकदमे दर्ज करने से गुस्साए लोगों ने मंगलवार को गोपेश्वर बाजार बंद करने का ऐलान किया है। व्यापारी नेताओं और छात्रों ने पुलिस उपाधीक्षक से मुलाकात कर मुकदमे वापस लेने की मांग की। व्यापारियों और छात्र नेताओं ने चेतावनी दी है कि यदि मुकदमे वापस न हुए तो 20 अक्टूबर को मुख्यालय में बाजार बंद किए जाएंगे। दूसरी तरफ पुलिस ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए चौकसी बढ़ा दी है।

उल्लेखनीय है कि फरवरी 2009 में चमोली कस्बे में एक व्यापारी द्वारा एक स्थानीय युवती का अश्लील एमएमएस बनाये जाने की घटना जैसे ही प्रकाश में आई। इस घटना का विरोध करने के लिए चमोली में जबर्दस्त विरोध-प्रदर्शन हुआ। मामले में लंबे समय तक गिरफ्तारी न होने पर नाराज लोगों ने मुख्य चौराहे पर प्रशासन और सरकार का पुतला फूंका।

पुलिस ने राजमार्ग बाधित करने तथा अन्य मामलों में 20 लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमे कायम कर दिए थे। हालांकि बाद में अश्लील एमएमएस कांड और इसी प्रकरण से जुड़कर मासूम दीया की भी हत्या का प्रकरण सामने आने पर चमोली में तीव्र प्रतिक्रिया हुई थी। जिसके फलस्वरूप मुख्य आरोपी गिरफ्तार हुआ था।

पुलिस द्वारा व्यापारियों और छात्र नेताओं के विरुद्ध दर्ज मुकदमों की चाजर्सीट अदालत में प्रस्तुत किए जाने पर व्यापारी और छात्र नेता आक्रोशित हैं। इनका कहना है कि पुलिस ने देवभूमि में अपराध करने वालों का विरोध करने वालों के विरुद्ध ही मुकदमे कायम कर साबित कर दिया है कि वह यहां पर अपराध को समाप्त नहीं बल्कि अपराधी को पनाह देने का कार्य कर रही है।

रविवार को इसी प्रतिक्रिया फलस्वरूप मुख्यालय पर पुलिस का पुतला फूंका गया और 20 अक्टूबर को मुख्यालय गोपेश्वर समेत चमोली में भी बाजार बंद की अपील की गई है। व्यापार संघ के अध्यक्ष भगवती प्रसाद भट्ट के नेतृत्व में व्यापारियों और छात्र नेताओं ने पुलिस उपाधीक्षक बीएल आर्या से मुकदमे वापस लेने की मांग की है। पुलिस उपाधीक्षक बीएल आर्या ने कहा कि मुकदमे वापस लेने का अधिकार सरकार को है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंगलवार को बंद रहेगा गोपेश्वर बाजार