अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घोषणा पत्र में संप्रग सरकार पर बरसी सीपीएम

माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव प्रकाश करात ने कहा है कि केंद्र की संयुक्त प्रतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार ने अमीरों को फायदा पहुंचाने वाली नीतियों को अपनाया। नई दिल्ली में सोमवार को करात ने पार्टी घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा, ‘‘हम देश में एक वैकल्पिक धर्मनिरपेक्ष सरकार चाहते हैं।’’ उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि देश में मुठ्ठी भर अमीरों और बड़े पैमाने पर मौजूद गरीबों के बीच दूरियां बढ़ाने के लिए संप्रग ही जिम्मेदार है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली का हवाला देते हुए करात ने कहा कि मनमोहन सरकार ने इसे मजबूत करने की बजाय कमजोर किया। माकपा महासचिव ने कहा कि संप्रग सरकार के समय सबसे बड़ा विश्वासघात देश की विदेश नीति के साथ हुआ है। मनमोहन सरकार अपनी गुटनिरपेक्षता वाली विदेश नीति से पूरी तरह पलट गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घोषणा पत्र में संप्रग सरकार पर बरसी सीपीएम