DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हंगामा है क्यों बरपा, एक चुंबन ही तो लिया है

हंगामा है क्यों बरपा, एक चुंबन ही तो लिया है

पाकिस्तान के एक शीर्ष शैक्षणिक संस्थान में चुंबन लेने या न लेने को लेकर छिड़ी बहस खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है और अब इंटरनेट प्रेमी इस मसले पर चर्चा के लिए सोशल नेटवर्किंग साइट ट्वीटर का सहारा ले रहे हैं।

सरेआम प्रेम का स्पर्श से इजहार (चुंबन) किए जाने पर एक वरिष्ठ छात्र ने रमजान के पवित्र महीने में आपत्ति जताई थी। उसने दो छात्रों को किस करते हुए देखा था और उसने विश्वविद्यालय परिसर की ई-मेल प्रणाली के जरिए छात्रों को बड़े पैमाने पर मेल भेजकर इस घटना पर खूब हाय-तौबा मचाई।

लाहौर यूनीवर्सिटी ऑफ मैनेजमेंट साइंस (एलयूएमएस) की एक वरिष्ठ छात्र ताजवर अवान ने सभी को ई-मेल  भेजा। तब से इस मसले पर मिश्रित प्रतिक्रिया मिल रही हैं। कुछ छात्रों ने इस पर इस्लाम धर्म का हवाला देते हुए प्रतिक्रिया दी, वहीं कुछ छात्रों ने इस मसले को उठाने के बारे में छात्र अवान का मजाक उड़ाया।

इस बीच, अवान द्वारा इस चुंबन की घटना का वीडियो सबूत पेश करने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने परिसर में आचार संहिता लागू करने का वादा किया है।

वहीं ट्वीटर पर खावेर सिद्दीकी नाम के एक शख्स ने इस विवाद पर खुल कर प्रतिक्रया दी है। उसने लिखा है, "हा हा हा, चुंबन पर पहरा।" जबकि अलीसा हैरिस ने लिखा है कि उसे गर्व है कि वह पाकिस्तान में नहीं रहती है। हाफ्सा अरैन ने इस विवि परिसर में प्रस्तावित प्रतिबंध की खबर सुनने के बाद अपने संदेश में कहा है कि हाय बेचारे लड़के। जबकि एक अन्य छात्र ने लिखा है कि यह विवादास्पद चुंबन सिर्फ एक चुंबन नहीं है बल्कि नुक्ताचीनी है।
    
विवि परिसर में सार्वजनिक रूप से प्रेम का इजहार करते हुए देखे जाने वाले छात्रों में से अधिकतर इस मुद्दे को लेकर बहुत निराश हैं। इमरान बलूच नाम के एक छात्र ने अपने ब्लॉग में लिखा है कि इस विवि का एक छात्र होने के नाते मैं यह सुनकर उदास हूं कि इस शीर्ष संस्थान ने छात्रों का निजी अधिकार छीन लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हंगामा है क्यों बरपा, एक चुंबन ही तो लिया है