DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाँच को ठप रहेगा सिंचाई विभाग में कामकाज

यूपी इंजीनियर्स एसोसिएशन के तत्वावधान में आगामी पाँच नवम्बर को राजधानी लखनऊ में विरोध रैली आयोजित की जा रही है। एसोसिएशन के सभी प्रमुख नेता इस रैली को कामयाब बनाने के लिए तैयारियों में जुटे हुए हैं।

संगठन के अध्यक्ष अख्तर अली फारूकी ने बताया कि पाँच नवम्बर को  सिंचाई के अलावा लोक निर्माण विभाग, राजकीय निर्माण निगम, आवास विकास परिषद, ग्रामीण अभियंत्रण सेवा और लघु सिंचाई विभाग के इंजीनियर, अधिकारी व कर्मचारी लखनऊ की उक्त रैली में जुटेंगे। लिहाजा सिंचाई विभाग में तो कामकाज पूरी तरह ठप रहेगा ही। अन्य अभियंत्रण विभागों का कामकाज भी आंशिक तौर पर प्रभावित होगा।

श्री फारूकी के अनुसार यह रैली इस साल बीती दो अगस्त को गोरखपुर में बाढ़ खण्ड कुशीनगर के इंजीनियर मनोज कुमार सिंह की हत्या और उसके बाद अन्य अभियंताओं पर ठेकेदारों व माफिया के लगातार हो रहे हमलों के विरोध में आयोजित की जा रही है। श्री फारूकी ने बताया कि इस रैली में सिंचाई विभाग से जुड़े पश्चिमी उ.प्र. के सभी डिवीजनों के इंजीनियरों को खासतौर पर जीजान से तैयारी करने के निर्देश दिये गए हैं।

श्री फारूकी के अनुसार प्रदेश में जहाँ-जहाँ भी विकास कार्य करवाए जा रहे हैं वहाँ सरकारी अभियंत्रण विभागों से जुड़े इंजीनियरों व अन्य अधिकारियों को दबाव में नियम-कानून के खिलाफ काम करने को मजबूर किया जा रहा है, बात न मानने पर जान से मारने की धमकी भी दी जा रही है। इस मामले में मुख्यमंत्री को अनेक ज्ञापन भेजे जा चुके हैं। साथ ही लोक निर्माण मंत्री व अन्य सम्बंधित अधिकारियों से भी कई दौर की बातचीत हो चुकी है।

इस बातचीत में सुरक्षा के सभी जरूरी इंतजाम सरकार की तरफ से किए जाने के आश्वासन भी दिये गए मगर अभी तक हुआ कुछ भी नहीं। उन्होंने बताया कि पश्चिमी उ.प्र. में लोकनिर्माण विभाग की करीब 100 और सिंचाई विभाग की करीब 80 डिवीजन सक्रिय हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाँच को ठप रहेगा सिंचाई विभाग में कामकाज