DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय एडीआर को बीते सप्ताह 3. 54 अरब डॉलर का फायदा

भारतीय एडीआर को बीते सप्ताह 3. 54 अरब डॉलर का फायदा

अमेरिकी शेयर बाजारों में कारोबार कर रही भारतीय कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में बीते सप्ताह 3.5 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है। इस दौरान सबसे ज्यादा फायदा सॉफ्टवेयर कंपनी विप्रो को हुआ। भारतीय कंपनियों को हुए कुल लाभ में से एक-तिहाई विप्रो के खाते में गया।
   
न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज और नेस्डैक में सूचीबद्ध भारतीय कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 16 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह में 3.54 अरब डॉलर बढ़ गया। इस दौरान आईटी कंपनी विप्रो के बाजार पूंजीकरण में 1.3 अरब डॉलर का इजाफा हुआ और यह 27. 48 अरब डॉलर पर पहुंच गया।

निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक तथा एचडीएफसी बैंक के बाजार पूंजीकरण में इस दौरान कुल मिलाकर
1.63 अरब डॉलर की वृद्धि हुई। आईसीआईसीआई बैंक का बाजार पूंजीकरण 77.9 करोड़ डॉलर बढ़कर 22.55 अरब डॉलर पर पहुंच गया। वहीं एचडीएफसी बैंक का बाजार पूंजीकरण 85.1 करोड़ की बढ़त के साथ 17.47 अरब डॉलर पर पहुंच गया। अमेरिकन डिपॉजिटरी रिसीटस (एडीआर) के रूप में कारोबार कर रही 16 भारतीय कंपनियों में से तांबा उत्पादन स्टरलाइट के बाजार पूंजीकरण में 54.8 करोड़ डॉलर की वृद्धि हुई और यह 12.36 अरब डालर पर पहुंच गया।

इसके साथ ही सत्यम कंप्यूटर (अब महिंद्रा सत्यम) के बाजार पूंजीकरण में भी उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई। कंपनी का बाजार पूंजीकरण 15.5 करोड़ डॉलर के इजाफे के साथ 4. 38 अरब डॉलर हो गया। डब्ल्यूएनएस होल्डिंग्स का बाजार पूंजीकरण 7.4 करोड़ डॉलर की बढ़त के साथ 71.5 करोड़ डॉलर पर पहुंच गया।
    
हालांकि अमेरिकी शेयर बाजारों में कारोबार कर रही भारतीय कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में कुल मिलाकर इजाफा हुआ, लेकिन छह कंपनियां ऐसी रहीं जिनके बाजार पूंजीकरण में सप्ताह के दौरान गिरावट आई।

आईटी कंपनी इंफोसिस को इस दौरान सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। कंपनी के बाजार पूंजीकरण में 10.3 करोड़ डॉलर की कमी आई। सप्ताह के दौरान एमटीएनएल का बाजार पूंजीकरण जहां 4.1 करोड़ डॉलर घटा, वहीं टाटा कम्युनिकेशंस को 2.3 करोड़ डॉलर का घाटा हुआ। बीपीओ फर्म जेनपैक्ट के बाजार पूंजीकरण में 6 करोड़ डॉलर की कमी आई, वहीं टाटा मोटर्स का बाजार पूंजीकरण 40 लाख डॉलर कम हुआ। डॉ. रेड्डीज लैब के बाजार पूंजीकरण में सप्ताह के दौरान 1.7 करोड़ डॉलर की कमी आई।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय एडीआर को 3. 54 अरब डॉलर का फायदा