DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

38 इंजीनियरिंग कॉलेजों को नोटिस

प्रदेश में 38 इंजीनियरिंग कॉलेजों ने फीस निर्धारित हुए बिना ही एडमिशन की प्रक्रिया शुरू कर दी। इन कॉलेजों को नोटिस जारी करने का निर्णय लिया गया है। इन्हें 15 दिन का टाइम दिया जाएगा और इसके बाद कमेटी एकतरफा फीस तय करने के विकल्प पर विचार करेगी।

इस वर्ष प्रदेश में बड़ी संख्या में नए इंजीनियरिंग और व्यावसायिक उपाधियों के (एमबीए, एमसीए आदि) कॉलेज शुरू हुए हैं। कुछ पुराने कॉलेजों को भी नई उपाधियों की स्वीकृति मिली है। लेकिन, इन कॉलेजों ने अभी राज्य स्तर की फीस कमेटी से फीस निर्धारित करने की जरूरत नहीं समङी। फीस निर्धारित हुए बिना ही प्रवेश का दौर भी शुरू कर दिया गया। फीस कमेटी ने इस स्थिति को गंभीर माना।

पूर्व जज लक्ष्मी बिहारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय किया गया कि ऐसे 38 कॉलेजों को नोटिस भेजे जाएंगे। इनमें से ज्यादातर कॉलेज देहरादून-हरिद्वार हैं। सूत्रों के अनुसार इन कॉलेजों को दीपावली अवकाश खत्म होने के बाद 15 दिन का नोटिस भेजा जाएगा। 15 दिन की अवधि में यदि इन्होंने फीस निर्धारण के लिए प्रस्ताव न भेजा तो कमेटी इनके मामले में एकतरफा फीस का निर्धारण कर देगी। ऐसी स्थिति में इन कॉलेजों और नई उपाधियों की फीस को संबंधित वर्ग में सबसे नीचे के स्तर पर रखा जाएगा। नवंबर में इनके खिलाफ अर्थ-दंड का निर्णय लिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:38 इंजीनियरिंग कॉलेजों को नोटिस