DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उ.प्र. में 6020 लाख मिट्टी के नमूने एकत्र

उत्तर प्रदेश में मिट्टी के स्वास्थ्य के लिए संचालित मृदा परीक्षण के (अपनी मिट्टी पहचाने) अभियान के तहत सात लाख मृदाओं के नमूने एकत्रित करने के लक्ष्य के सापेक्ष 6.20 लाख मृदाओं के नमूने एकत्रित किए गए हैं।

कृषि मंत्री चौ.लक्ष्मी नारायण ने बताया कि रबी पूर्व चलाए गए अभियान में प्रथम दिन 30 सितम्बर को तीन लाख मृदाओं के नमूने के लक्ष्य के सापेक्ष 2.92 लाख, दूसरे दिन एवं तीसरे दिन एवं 14 अक्टूबर को दो-दो लाख नमूने एकत्रित करने के लक्ष्य के सापेक्ष क्रमश 1.24, 2.04 लाख मृदाओं के नमूने एकत्रित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि आगामी 30 नवमबर तक मृदा परीक्षण की संस्तुतियां देने के लिए कार्य पूरी तेजी से किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि (अपनी मिट्टी पहचाने) अभियान वर्ष 2008-09 में आरम्भ किया गया। वर्ष 2008-09 में 18.64 मृदाओं के नमूने के लक्ष्य के सापेक्ष 20.65 लाख मृदाओं के नमूने एकत्रित किए एवं मृदा कार्ड उपलब्ध कराए गए। वर्ष 2009-10 में सितम्बर तक 16 लाख मृदाओं के नमूने के सापेक्ष 16.92 लाख नमूने एकत्रित हुए जिसमें 14.72 लाख मृदाओं के नमूने विश्लेषण कर मृदा कार्ड उपलब्ध कराए गए हैं।

प्रदेश में सरकार द्वारा मृदा स्वास्थ्य के लिए किए गए कार्यों में वर्ष 2009-10 में हरी खाद एवं बीज उत्पादन के लिए ढैचा वितरण 70600 कुन्तल लक्ष्य के सापेक्ष 67837 कुन्तल ढैचा बीज वितरण किया गया। इससे आच्छादित क्षेत्रफल का लक्ष्य 1.55 लाख हेक्टेयर के सापेक्ष 1.45 लाख हेक्टेयर आच्छादित किया गया। चौदह लाख जैव उर्वरक के पैकिट वितरण किए जा चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उ.प्र. में 6020 लाख मिट्टी के नमूने एकत्र