अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एडीचाी की चरित्र पंजिका पर अंतिम दस्तखत सीएम करेंगी

एडीाी की चरित्र पंजिका पर अब अंतिम दस्तखत मुख्यमंत्री के होंगे। अब तक शासनादेश में यह अधिकार राज्यपाल का था। अब राज्यपाल के पास यह अधिकार उसी स्थिति में होगा जब राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा हो। डीाीपी की चरित्र पंजिका मुख्यसचिव ही लिखेंगे। अब तक यह काम परम्परागत तरीके से होता था पर अब इसे शासनादेश का रूप दे दिया गया है।ड्ढr राज्य के गृह सचिव महेश गुप्ता ने बताया कि इस आशय का शासनादेश 18 फरवरी को किया गया है। इसमें खासतौर पर एडीाी की चरित्र पंजिका को लेकर व्यवस्था का निर्धारण है। एडीाी स्तर के अधिकारियों की चरित्र पंजिका डीाीपी लिखेंगे। उसके बाद प्रमुख सचिव गृह और मुख्य सचिव उसका अनुमोदन करेंगे और फिर फाइल मुख्यमंत्री के हस्ताक्षर के लिए जाएगी। इस शासनादेश को लेकर तरह-तरह की खबरें फैलने से आईपीएस और आईएएस अफसरों के बीच भ्रम की स्थिति फिर उभरने लगी थी। शासन ने इस मसले पर सोमवार को स्थिति स्पष्ट की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एडीचाी की चरित्र पंजिका पर अंतिम दस्तखत सीएम करेंगी