DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिर दहला पाक, सीरियल ब्लास्ट में 41 मरे

फिर दहला पाक, सीरियल ब्लास्ट में 41 मरे

पाकिस्तान गुरुवार को आतंक की जद में रहा क्योंकि तालिबान के संदिग्ध आतंकवादियों ने गुरुवार को लाहौर के तीन सुरक्षा प्रतिष्ठानों पर हमले किए और पश्चिमोत्तर कोहाट शहर के एक पुलिस थाने में आत्मघाती हमला किया, जबकि पेशावर शहर में भी एक विस्फोट हुआ। इन हमलों में कम से कम 41 लोगों की मौत हो गई है।
    
पुलिस ने बताया कि लाहौर में संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के कार्यालय और दो पुलिस प्रशिक्षण संस्थानों में आतंकवादियों के तीन दलों द्वारा स्थानीय समय के मुताबिक सुबह सवा नौ बजे से सुबह के 10 बजकर 40 मिनट के बीच किए गए हमले में 18 लोगों की मौत हो गई। इनमें 13 सुरक्षाकर्मी और पांच नागरिक शामिल हैं। देश में 
पिछले 11 दिनों में यह पांचवा आतंकवादी हमला। 

सुरक्षाकर्मियों ने 10 हमलावरों को मार गिराया है या उन्होंने खुद को उड़ा लिया। पश्चिमोत्तर शहर कोहाट में आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटकों से लदे एक वाहन से शहर के पुलिस थाने में टक्कर मार दी, जिससे 11 लोगों की मौत हो गई और 22 अन्य घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हमलावर ने पुलिस थाने के बाहरी दीवार पर टक्कर मारी, जिससे जबरदस्त विस्फोट हुआ। पुलिस ने बताया कि मृतकों में कुछ पुलिसकर्मी और स्कूली बच्चे भी शामिल हैं। पुलिस थाना बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है।

उधर, पश्चिमोत्तर प्रांत की राजधानी पेशावर की एक सरकारी कॉलोनी में विस्फोटकों से भरी एक कार को रिमोट कंट्रोल के जरिए उड़ा दिया गया। यह घटना उस आत्मघाती विस्फोट के लगभग एक हफ्ते बाद हुई है, जिसमें एक आत्मघाती हमलावर ने इस शहर के भीड़ भाड़ वाले बाजार में अपने वाहन को उड़ा दिया था।

वहीं, लाहौर में माल रोड के नजदीक टेंपल रोड पर स्थित एफआईए कार्यालय, हवाई अडडे से लगभग छह किलोमीटर दूर बेदियां रोड स्थित एलीट फोर्स पुलिस प्रशिक्षण केंद्र तथा लाहौर के बाहर मानवां पुलिस प्रशिक्षण केंद्र पर आतंकवादियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच भारी गोलीबारी हुई।

पाकिस्तानी चैनलों के मुताबिक तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान ने लाहौर हमलों की जिम्मेदारी लेने का दावा किया है। राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी ने इस दावे पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि ये हमले सरकार को हिंसक आतंकवादियों के उन्मूलन के अपने उददेश्य से डिगा नहीं सकता है।
    
घटनास्थल पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एफआईए कार्यालय पर हुए हमले में दो पुलिस निरीक्षक और चार नागरिकों की मौत हो गई। सुरक्षा बलों ने आत्मघाती जैकेट पहने हुए एक आतंकवादी को मार गिराया। इस घटना में मारे गये लोगों में एक बैंक कर्मचारी भी शामिल है।
    
इस घटना में मारे गए आतंकवादियों के पास से मेवे के पैकेट मिले हैं। सुरक्षा अधिकारियों ने बताया इससे यह संकेत मिलता है कि उनकी संभवत: बंधक बनाने और इस इमारत में छिपने की योजना थी। पुलिस अधीक्षक (जांच) हैदर अशरफ ने बताया कि इससे पहले कि हमलावर एफआईए के कार्यालय में घुस पाते द्वार पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक लिया। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने कार्यालय को खाली करा दिया और इस इलाके में संभवत: छिपे तीन और आतंकवादियों के लिए तलाशी शुरू कर दी है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फिर दहला पाक, सीरियल ब्लास्ट में 41 मरे