DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाना प्रभारी के बेटे ने छात्र की थाने ले जाकर पिटाई की

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक थाना प्रभारी के बेटे पर अपने साथियों के साथ मिलकर मैनेजमेंट के एक छात्र की थाने ले जाकर पुलिसकर्मियों के सामने जमकर पिटाई करने का आरोप लगा है।


घटना शहर के गंगानगर इलाके की है। जहां थाना प्रभारी बृजपाल यादव का बेटा राहुल अपने साथियों के साथ ‘इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नॉलाजी’(आईआईएमटी) के बीबीए प्रथम वर्ष के छात्र संदीप सिन्हा को कथित तौर पर मंगलवार को अगवा करके स्थानीय इचौली थाने ले गया। यहां के थाना-प्रभारी के पद पर बृजपाल तैनात हैं। आरोप है कि थाने में राहुल ने संदीप की जमकर पिटाई की और उसे मरणासन्न हालत में शहर के दीप होटल के पास छोड़कर फरार हो गया। घायल संदीप को शहर के जीवन ज्योति अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पुलिस ने तीन आरोपी लड़कों के खिलाफ मामला तो दर्ज किया है, लेकिन इनमें थाना प्रभारी के बेटे का नाम शामिल नहीं है।

मेरठ के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) शरद सचान ने बुधवार को बताया कि फिलहाल तीन व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। सचान ने कहा कि हमें इस बात की भी जानकारी मिली है कि दरोगा का बेटा राहुल पुलिसकर्मियों की मिलीभगत से इस घटना में शामिल था। घटना की जांच की जा रही है। पुलिस उपाधीक्षक मसाराम गौतम मामले की जांच कर रहे हैं। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बिहार के छपरा के रहने वाले पीड़ित छात्र संदीप के मुताबिक मंगलवार को राहुल अपने दोस्त संदीप, सचिन चौधरी व बबिन चौधरी के साथ उसके कमरे में घुस आया और उसे जबरन कार में बिठाकर इचौली थाने में ले गया और वहां उसकी पिटाई की।

संदीप ने बताया कि आरोपी कॉलेज में पढ़ने वाले दूसरे राज्यों के छात्रों से शाम होते ही शराब व होटल में खाना खिलाने का दबाव बनाते हैं, मना करने पर शारीरिक व मानसिक उत्पीड़न करते हैं। पीड़ित का आरोप है कि राहुल व उसके साथियों ने कमरे में बाइक के लिए रखे पांच हजार रुपये भी छीन लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:थानाप्रभारी के बेटे ने छात्र की थाने में की पिटाई