DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहले आप, फिर हम करंेगे अपने पत्ते साफ

सभी दलों के उम्मीदवारों की सूची लगभग पूरी है। घोषणा में देरी इसलिए हो रही है कि एक दल दूसर की सूची का इंतजार कर रहे हैं। यूपीए और एनडीए में यह इंतजार अधिक है। वाम दलों और बसपा ने अपने उम्मीदवारों की घोषणा पहले कर दी है। खबर है कि एनडीए की सूची जारी होने के बाद ही यूपीए के उम्मीदवारों की सूची जारी होगी। ताकि मुकाबले में अधिक ताकतवर उम्मीदवार को उतारा जाए।ड्ढr ड्ढr अपवाद को छोड़ कर प्राय: सभी मौजूदा सांसदों को टिकट मिलने की गारंटी है। हां, कुछ सांसदों के क्षेत्र बदल जाएंगे। परशानी पिछले चुनाव में पराजित उम्मीदवारों को लेकर भी हो रही है। ये एक बार और टिकट चाहते हैं जबकि नेतृत्व इनके विकल्प की तलाश में है। बीते चुनाव में अधिक मार्जिन से हारनेवाले उम्मीदवारों की ओर दोनों गठबंधन की हिकारत भरी नजर है। छोटे दल इस उम्मीद में उम्मीदवारों की घोषणा नहीं कर रहे हैं कि अधिकृत सूची जारी हो जाने के बाद उन्हें कुछ कद्दावर उम्मीदवार मिल जाएंगे। ये ऐसे उम्मीदवार होंगे जो बड़े दलों से बेटिकट किए जाएंगे। इसबीच यूपीए में सीटों के बंटवार को लेकर नए फामरूले पर बातचीत चल रही है। नए फामरूले में सीटों की संख्या के बदले उम्मीदवारों के जीतने की क्षमता को प्राथमिकता दी जाएगी। यूपीए के घटक दलों को सीटों की मांग के साथ उम्मीदवारों के नाम और उनकी जीत की संभावना के बार में भी ब्योरा देना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पहले आप, फिर हम करंेगे अपने पत्ते साफ