DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'सिंह' के अरुणाचल दौरे से फिर लाल हुआ 'ड्रेगन'

'सिंह' के अरुणाचल दौरे से फिर लाल हुआ 'ड्रेगन'

चीन ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के चुनाव प्रचार के लिए अरुणाचल प्रदेश के दौरे पर जाने के दस दिन बाद आज इस पर कड़ा असंतोष जताया।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मा झाओशू ने कहा कि हम मांग करते हैं कि भारतीय पक्ष चीन की गंभीर चिंताओं का समाधान करे और विवादित क्षेत्र में गड़बड़ी पैदा न करे ताकि भारत और चीन के बीच संबंध स्वस्थ तरीके से विकसित होते रहें।

मंत्रालय की वेबसाइट पर डाले गए बयान में मा ने कहा है कि चीन की गंभीर चिंताओं की परवाह न करते हुए भारतीय नेता की विवादित क्षेत्र की यात्रा से चीन बहुत असंतुष्ट है। उन्होंने इस बात को रेखांकित किया है कि चीन और भारत ने कभी भी आधिकारिक रूप से अपनी सीमा को चिन्हित करने के मसले को सुलझाया नहीं है और भारत-चीन सीमा के पूर्वी हिस्से पर चीन का रुख सतत और साफ है।

सिंह ने तीन अक्तूबर को अरुणाचल प्रदेश के अपने दौरे में एक चुनावी रैली को संबोधित किया था।
हाल ही में चीन ने अरुणाचल प्रदेश में विकास परियोजनाओं के लिए एशियाई विकास बैंक से भारत को दिए जाने वाले ऋण के एक हिस्से को रोक दिया था। चीन ने निर्वासित आध्यात्मिक नेता दलाई लामा की पिछले माह की राज्य की यात्रा का भी विरोध किया था।

भारत का कहना है कि चीन ने गैर कानूनी रूप से जम्मू-कश्मीर के 43,180 वर्ग किलोमीटर भाग पर कब्जा जमा रखा है । दूसरी ओर, चीन  भारत पर उसके करीब 90 हजार वर्ग किलोमीटर क्षेत्र पर कब्जा जमाने का आरोप लगाता है, जिसका अधिकतर भूभाग अरुणाचल प्रदेश में है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'सिंह' के अरुणाचल दौरे से फिर लाल हुआ 'ड्रेगन'