DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भत्ते संबंधी आरोपों पर स्वराज पॉल की जांच की गुहार

भत्ते संबंधी आरोपों पर स्वराज पॉल की जांच की गुहार

गलत तरीके से संसदीय भत्तों का दावा करने के आरोप लगने के बाद लॉर्ड स्वराज पॉल ने हाउस ऑफ लाडर्स से इन आरोपों की जांच कराने की अपील की थी, जिसे सदन ने स्वीकार कर लिया है। सदन ने इस मामले में जांच कराने का ऐलान किया है।

लॉर्ड स्वराज पाल पर आरोप लगे थे कि उन्होंने गलत तरीके से संसद से भत्तों का दावा किया। हालांकि उन्होंने इन आरोपों का पूरी तरह खंडन किया था।

78 वर्षीय लेबर पार्टी के सांसद पॉल ने सदन से इन आरोपों की जांच कराने की अपील की थी कि उन्होंने वर्ष 2004 से 2006 के बीच ऑक्सफोर्डशायर में एक फ्लैट में रहते हुए 38 हजार पाउंड की राशि का भत्ते के रूप में दावा किया था, जबकि यह फ्लैट उनके स्वामित्व वाले एक होटल का हिस्सा है ।

उन्होंने कहा है कि वह इस फ्लैट में सोए नहीं थे, लेकिन प्रति रात्रि के हिसाब से वह 174 पाउंड का भत्ता हासिल करने के हकदार थे, क्योंकि उस अवधि में यह फ्लैट उनका आवास था। उन्होंने इस बात को भी रेखांकित किया है कि उन्होंने वर्ष 2004 में किसी भत्ते का दावा नहीं किया। इस मुद्दे को लेकर मीडिया उनकी आलोचना कर रहा है।

अप्रवासी भारतीय उद्योगपति ने अपने खिलाफ लगे आरोपों से बेदाग निकलने के लिए जांच की अपील की है। जांच का काम सदन के क्लर्क करेंगे जो लोकसभा के महासचिव स्तर के अधिकारी होते हैं। इस जांच के लंबित रहने तक स्वराज पाल सदन के उपाध्यक्ष पद की जिम्मेदारी नहीं संभालेंगे। उन्होंने खुद इसकी अपील की थी।

हाउस ऑफ लॉडर्स के प्रवक्ता ने बताया 11 और 12 अक्तूबर को मीडिया द्वारा लगाए गए आरोपों के मद्देनजर सदन इन आरोपों की जांच कराएगा। इस संबंध में लॉर्ड पॉल ने खुद ही अपील की थी। गौरतलब है कि संसद के दोनों सदनों में प्रमुख पार्टियों के सदस्यों द्वारा भत्तों का दावा किए जाने के संबंध में उपजे विवाद में यह ताजा घटनाक्रम है।

प्रधानमंत्री गॉर्डन ब्राउन जहां अपने खर्चे के एवज में किए गए दावों की 12,415 पाउंड की राशि लौटाएंगे वहीं कंजरवेटिव नेता डेविड कैमरून को स्वतंत्र लेखाकार सर थॉमस लेग ने वर्ष 2006 में उन भुगतानों को लेकर अधिक सूचना उपलब्ध कराने को कहा है जिनका उन्होंने अधिक दावा किया था। वह पहले ही 218 पाउंड की राशि लौटा चुके हैं।

डाउनिंग स्ट्रीट ने इस बात की पुष्टि की है कि ब्राउन इस धनराशि को वापस करेंगे, जो मुख्य रूप से उन्होंने साफ सफाई और बागवानी मद में हासिल की थी। हालांकि भत्तों का उनका दावा उस समय के नियमों के अनुसार था।

सर थामस ने कहा है कि वार्षिक आधार पर साफ-सफाई के लिए दो हजार पाउंड तथा बागवानी के लिए एक हजार पाउंड से अधिक की राशि किसी ने भी वसूल की है, उसे यह वापस करनी पड़ेगी।

लिबरल डेमोकेट्र नेता निक क्लैग वर्ष 2006 से 2009 के बीच बागवानी मद में हासिल की गयी 3900 पाउंड की राशि में से 910 पाउंड लौटाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भत्ते संबंधी आरोपों पर स्वराज पॉल की जांच की गुहार