DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाराष्ट्र, हरियाणा, अरुणाचल में मतदान ने पकड़ी रफ्तार

महाराष्ट्र, हरियाणा, अरुणाचल में मतदान ने पकड़ी रफ्तार

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में नक्सलियों की गोलीबारी की एक घटना व हरियाणा के कैथल में चुनवी संघर्ष को छोड़ कर इस पश्चिमी राज्य, हरियाणा और अरूणाचल प्रदेश में मतदान शांतिपूर्वक हो रहा है।

तीनों राज्यों में शुरूआती घंटों के दौरान धीमी से मध्यम गति के बाद मतदान ने रफ्तार पकड़ ली है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि गढ़चिरौली जिले में, अहेरी ब्लॉक के कासनसुर के समीप नक्सलियों ने मतदान शुरू होने से पहले गश्त कर रहे एक दल पर गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ और सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई भी नहीं की।

गौरतलब है कि आठ अक्तूबर को गढ़चिरौली जिले में माओवादियों ने 17 पुलिसकर्मियों को गोली मार दी थी। पुलिस महानिदेशक (निर्वाचन) ए एन राय ने बताया कि राज्य में 1.29 लाख से अधिक पुलिस बल और केंद्रीय बल तैनात किए गए हैं।

महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हो रहा है। शुरूआती तीन घंटे में लगभग दस फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। सुबह मतदान करने वालों में केंद्रीय मंत्री शरद पवार, विलासराव देशमुख, उद्योगपति अनिल अंबानी, शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे और क्रिकेट खिलाडी सचिन तेंदुलकर शामिल हैं।


महाराष्ट्र में कुल 7,56,34,525 मतदाता हैं जो मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, उप मुख्यमंत्री छगन भुजबल और 37 मंत्रियों सहित 3,559 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। उपनगर बांद्रा सीट से कांग्रेस के विधायक जनार्दन चांदुरकर पर मतदाताओं को लुभाने के लिए रुपये बांटने का आरोप लगाया गया है। इस सिलसिले में पुलिस ने चांदुरकर से पूछताछ की।

निर्वाचन अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए हो रहे चुनाव में 2 बजे तक 40 फीसदी मतदान होने की खबर है। शुरूआती तीन घंटे में कम से कम दस फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था।

अरूणाचल प्रदेश के अधिकतर मतदान केंद्रों के सामने मतदाताओं की लंबी कतारें देखी गईं। यहां 60 सदस्यीय विधानसभा की 57 सीटों के लिए मतदान हो रहा है। हरियाणा में 59 लाख महिलाओं सहित 1.31 करोड़ से अधिक मतदाता कुल 1,222 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे।

राज्य के प्रमुख प्रत्याशियों में मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुड्डा, उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी बीरेन्दर सिंह, किरण चौधरी और रणदीप सिंह सुरजेवाला, पूर्व मुख्यमंत्री और इनेलोद प्रमुख ओमप्रकाश चौटाला, इनेलोद के महासचवि अजय चौटाला तथा हरियाणा जनहित कांग्रेस के अध्यक्ष कुलदीप बिश्नोई शामिल हैं।


अरूणाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री दोरजी खांदू सहित कांग्रेस के तीन उम्मीदवार बौद्ध बहुल तवांग जिले से निर्विरोध निर्वाचित हो चुके हैं। अब राज्य के चुनाव मैदान में 151 प्रत्याशी हैं, जिनके भाग्य का फैसला करीब 7.25 लाख मतदाता करेंगे। कांग्रेस ने सभी 60 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

संप्रग की सहयोगी राकांपा ने 36 और तृणमूल कांग्रेस ने 26 प्रत्याशियों को टिकट दिया है। तृणमूल कांग्रेस राज्य में पहली बार चुनाव लड़ रही है। भाजपा ने केवल 19 उम्मीदवार उतारे हैं।

राज्य के प्रमुख प्रत्याशियों में पूर्व मुख्यमंत्री गेगांग अपांग, कामेंग दोलो और पूर्व केंद्रीय मंत्री ओमक अपांग शामिल हैं। गेगांग अपांग तूतिंग विंकियोंग सीट से लगातार सात बार चुनाव जीत चुके हैं। दोलो चयांगताजो सीट से आठवीं बार किस्मत आजमा रहे हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री ओमक अपांग पासीघाट वेस्ट सीट से प्रत्याशी हैं। ये सभी कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। तीनों राज्यों में मतगणना 22 अक्तूबर को होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महाराष्ट्र, हरियाणा, अरुणाचल में मतदान ने पकड़ी रफ्तार