DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमोहन सबसे कमजोर पीएमः मुलायम

समाजवादी चिंतक डॉ. राम मनोहर लोहिया की पुण्य तिथि के मौके पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने केन्द्र व प्रदेश सरकार पर तीखे प्रहार किए। मनमोहन सिंह को उन्होंने कमजोर प्रधानमंत्री करार दिया। उन्होंने राहुल गांधी के दलितों के गाँव जाने पर भी कटाक्ष किया और कहा कि समाजवादी तो पचास के दशक में ही यह कर चुके हैं।

1957 में एक दलित के घर खाना खाने की वजह से मेरा बहिष्कार हो गया था लेकिन चूँकि हम सामान्य परिवार से आते हैं इसलिए मीडिया की इस पर नजर नहीं पड़ी। राहुल संभ्रांत घराने के लिए इसलिए इतनी तवज्जो मिलती है। ऐसे में अगर हमारी पार्टी के लोग उनके दौरों को नाटक कहते हैं तो इसमें क्या बुरा? अलबत्ता श्री यादव ने सपा के नौजवानों के गाँवों से कट जाने पर उन्हें फटकार लगाते हुए कहा कि लखनऊ में चक्कर लगाने की बजाए उन्हें गाँवों में जाकर लोगों को जोड़ना चाहिए।

डॉ. राम मनोहर लोहिया पार्क में आयोजित श्र्रद्धांजलि समारोह में सपा प्रमुख ने मनमोहन सिंह को कमजोर प्रधानमंत्री करार देते हुए कहा कि आतंकवादी पाकिस्तान से चीन और फिर नेपाल के रास्ते भारत आ रहे हैं। जाली नोट भी इसी रास्ते से आते हैं। मैं पूछना चाहता हँप्रधानमंत्री से कि उनके तीनों राजदूत क्या कर रहे हैं? मैं यह बात ऐसे ही नहीं कह रहा। मेरे पास सबूत हैं उसके आधार पर कह सकता हूं कि तीनों राजदूतों को सब पता है।

चीन हमारी जमीन पर घूम रहा है और रक्षा मंत्री कहते हैं कि कोई खास बात नहीं। उन्होंने प्रधानमंत्री पर जमकर कटाक्ष भी किए। कहा कि महँगाई इतनी बढ़ गई है पर प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि महँगाई नहीं रुकेगी। उन्होंने खुद मौका दे दिया कि खूब महँगाई बढ़ाओ। उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह किसी तरह अपनी कुर्सी बचा रहे हैं।
प्रदेश सरकार पर उन्होंने आरोप लगाया कि मूर्तियाँ बनाने के नाम पर जमीन कब्जाने का अभियान चल रहा है।

उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि कहीं भी जमीन पर कब्जे की कोशिश हो तो उसका पुरजोर विरोध किया जाए और जहाँ कब्जे हो चुके हों उन्हें खाली करवाया जाए। प्रदेश व केन्द्र के खिलाफ जनवरी 2010 से निर्णायक संघर्ष का ऐलान करते हुए श्री यादव ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे अभी से तैयारी शुरू कर दें। उन्होंने कहा कि देश में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार उत्तर प्रदेश में है। मुख्यमंत्री का वश चले तो लोहिया पार्क पर भी कब्जा कर लें।

श्री यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी ही अकेली है जो अम्बेडकर का सबसे ज्यादा सम्मान करती है। सपा की सरकार में ही अम्बेडकर गाँवों का विकास हुआ। हमने खुद अम्बेडकर की प्रतिमाएँ लगवाईं। हम भी अम्बेडकर को मानते हैं लेकिन आज उनके नाम पर कब्जा करने का खेल चल रहा है।

सरकार के खिलाफ निर्णायक संघर्ष 19 जनवरी से होना है, उसकी तैयारी आप कर लीजिए। पहले दिन मैं खुद और पार्टी के सभी बड़े नेता धरना देंगे। सरकार यदि गोली भी चलवाएगी तो हम हार नहीं मानेंगे। समाज के हर तबके को साथ लेना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनमोहन सबसे कमजोर पीएमः मुलायम