DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

104 देशों में डाक टिकटों के हीरो हैं गांधी जी

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी अहिंसा के बूते पर आजादी दिलाने में भले ही भारत के हीरो हैं लेकिन डाक टिकटों के मामले में वह विश्व के 104 देशों में सबसे बड़े हीरो हैं। विश्व में अकेले गांधी ही ऐसे लोकप्रिय नेता हैं जिन पर इतने अधिक डाक टिकट जारी होना एक रिकार्ड है। राजधानी के जीपीओ में सोमवार को अहिंसापेक्स 2009 में विदेशों में उन पर जारी किए गए टिकटों का संग्रह इसी कड़ी की अनूठी पहल है। 

 राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर सर्वाधिक डाक टिकट उनके जन्म शताब्दी वर्ष 1969 में जारी हुए थे। उस वर्ष विश्व के 35 देशों ने उन पर 70 से अधिक डाक टिकट जारी किए थे। लखऊ फिलैटलिक क्लब के संस्थापक एवं सचिव एसएमए जैदी के मुताबिक बापू पर साउथ अफ्रीका ने सात, एसेडला ने नौ, भूटान ने 10, यूएसए व डोमिनिका ने छह-छह, ब्राजील, ग्रेट ब्रिटेन, सोमालिया व तनजानिया ने तीन-तीन, जर्मनी व जाम्बिया ने चार-चार और रूस ने दो डाक टिकट जारी किए।

श्री जैदी ने बताया 104 देश गांधी जी पर 300 से अधिक डाक टिकट व स्पेशल कवर निकाल चुके हैं। भारत में गांधी जी पर 1948 में पाँच, 1969 में चार, 1973 में नेहरू जी के साथ, 1979 में एक बच्ची के साथ, 1980 में डांडी मार्च पर एक डाक टिकट जारी हुआ था। इसके बाद 1992 में भारत छोड़ो आंदोलन पर दो, 1995 में भारत-दक्षिण अफ्रीका पर दो, 1998 में महात्मा गांधी के 50वें निर्वाण दिवस पर चार और 2001 में महात्मा गांधी मिलिनियम पर दो डाक टिकट जारी किए गए।

इनके अलावा अब तक 15 सामान्य डाक टिकट व 200 से अधिक विशेष आवरण भी जारी हो चुके हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ की 2007 में गांधी जी के जन्मदिन को प्रति वर्ष विश्व अहिंसा दिवस के रूप में मनाए जाने का निर्णय भी अहम है। इसी कड़ी में अहिंसापेक्स-2, 2009 के मौके पर भी अर्न्तराष्ट्रीय अहिंसा दिवस से सम्बंधित स्पेशल कवर जीपीओ में सीपीएमजी कर्नल कमलेश चन्द्र, निदेशक सचिन किशोर व वीके दक्ष ने जारी किया।

लखनऊ फिलैटलिक क्लब के प्रयास से पाँच रुपए की कीमत वाले इस स्पेशल कवर पर गांधी जी की फोटो के साथ राष्ट्रीय ध्वज को भी शामिल किया गया है। कवर पर सत्य अहिंसा के अनुयायी-महात्मा गांधी एवं राष्ट्रीय ध्वज भी छापा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:104 देशों में डाक टिकटों के हीरो हैं गांधी जी