DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपने बच्चों को कठोर प्रशिक्षण देता था लादेन

अपने बच्चों को कठोर प्रशिक्षण देता था लादेन

दुनिया का सबसे वांछित आतंकवादी ओसामा बिन लादेन अपने बच्चों सहित परिवार को भी कठोर प्रशिक्षण शिविर में झोंकने में संकोच नहीं करता था।

ओसामा की पहली पत्नी नजवा और पुत्र उमर ने मिलकर नई किताब ग्रोइंग अप इन लादेन लिखी है जिसमें इस प्रकार के प्रशिक्षण का खुलासा किया गया है। पुस्तक के अनुसार सूडान में एक रात अलकायदा नेता अपनी चार बीवियों और 14 बच्चों को रेगिस्तान के एक शिविर में ले गया।

दैनिक न्यूयार्क पोस्ट की रिपोर्ट में किताब के हवाले से लिखा गया है कि ओसामा उन्हें रेगिस्तान ले गया, जो एक निर्जन स्थान था। उसके बाद उसने सबसे बड़े बेटे से रेगिस्तान में गड्ढा खुदवाया। यह इतना पर्याप्त था कि एक व्यक्ति उसमें समा सके। ओसामा का मानना था कि यह पश्चिमी काफिरों और मुस्लिमों के बीच होने वाले संभावित युद्ध को लेकर प्रशिक्षण है।

ओसामा कहता है कि तुम्हें बहादुर होना चाहिए। सांप या लोमड़ियों के बारे में मत सोचो। कठिन चुनौतियों का दौर आने वाला है। प्रत्येक बच्चें एक या दो वर्ष के बच्चें सहित सभी मुश्किलों में पड़ सकते हैं। वहां भोजन या पानी नहीं होगा।

शिविर का दश्य कुछ इस प्रकार है। जैसे ही रात घिरती है अंधेरे में एक बच्चें के कांपने की आवाज आती है, मुझे ठंड लग रही है। लादेन चिल्लाता है धूल लगाकर या घास ओढ़ कर बचो। प्रकृति तुम्हें सुकून देगी। ओसामा की पत्नी को यह विचार बिल्कुल पसंद नहीं है लेकिन वह कहती है , मैंने खुद को याद दिलाया कि दुनिया कितनी बड़ी है उसके बारे में हम किसी एक में से मेरे पति अधिक जानते हैं। हम सभी अपने पति को प्यारे थे और वह हमारी रक्षा करना चाहते थे।

नजवा (51) अभी ओसामा से अलग होकर पश्चिम एशिया में किसी अज्ञात स्थान पर रहती है। वह ओसामा के 11 बच्चों में चौथे उमर के साथ रहती है। हालांकि किताब में न तो नजवा ओसामा की आलोचना और न ही उसका बचाव करती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अपने बच्चों को कठोर प्रशिक्षण देता था लादेन