DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीरू के आगे पिच या हालात मायने नहीं रखते: गंभीर

वीरू के आगे पिच या हालात मायने नहीं रखते: गंभीर

दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान गौतम गंभीर ने वायम्बा एकादश के खिलाफ चैम्पियंस लीग ट्वेंटी20 में जीत का श्रेय वीरेंद्र सहवाग को देते हुए कहा कि उसके फॉर्म में होने पर पिच या हालात मायने नहीं रखते।

सहवाग ने 42 गेंद में दस चौकों और एक छक्के की मदद से 67 रन बनाकर दिल्ली को श्रीलंकाई टीम पर 50 रन से जीत दिलाई। इसके साथ ही दिल्ली की टीम अगले दौर में पहुंच गई है।

गंभीर ने कहा कि हमारे लिए यह मैच जीतना बेहद जरूरी था ताकि टूर्नामेंट में बने रहें। 170 का स्कोर अच्छा था। वीरू और दिनेश कार्तिक ने अच्छी बल्लेबाजी की। उन्होंने कहा कि वीरू का बल्ला जब बोलता है तो टीम को शानदार शुरूआत मिलती है। फिर वह दिल्ली डेयरडेविल्स हो या टीम इंडिया। यदि उसके जैसा बल्लेबाज 15 ओवर तक डटा रहता है तो मैच की दिशा बदल जाती है।

फिरोजशाह कोटला की नई पिच पर गेंद धीमी आ रही थी जिससे बल्लेबाजों को दिक्कत हो रही थी। गंभीर ने कहा कि इस पिच पर एक मैच पहले से खेलने के कारण उनकी टीम को फायदा मिला।

गंभीर ने कहा कि हमें इस बात का फायदा हुआ कि हम इस पिच पर पहले खेल चुके थे। हमें लगा कि 130 का स्कोर अच्छा होगा और 170 बना लेना तो वाकई काबिले तारीफ था। उन्होंने कहा, आखिरी पांच ओवर में विकेट पास होने से फायदा मिलता है।

डेयरडेविल्स के लिए डर्क नैंस ने चार और 18 महीने बाद लौटे ग्लेन मैकग्रा ने दो विकेट लिए। गंभीर ने कहा, नैंस और आशीष नेहरा ने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन मैकग्रा की तारीफ करनी होगी। वह इतना महान गेंदबाज है कि इस उम्र में भी बेहतरीन गेंदबाजी करके विकेट ले रहा है।

इस बीच वायम्बा के कप्तान जेहान मुबारक ने सहवाग की तारीफ करते हुए कहा कि उसे रोक पाना नामुमकिन था। उन्होंने कहा कि यदि कोई ऐसी पारी खेलता है तो मैच का पासा उसकी टीम की तरफ ही मुड़ जाता है। सहवाग ने हमसे मैच छीन लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वीरू के आगे पिच या हालात मायने नहीं रखते: गंभीर