DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत को प्रचंड का संदेश, न करें इरादों पर संदेह

भारत को प्रचंड का संदेश, न करें इरादों पर संदेह

चीन के एक सप्ताह के दौरे पर गए नेपाल के विपक्षी माओवादी नेता प्रचंड ने नेपाली कांग्रेस के एक पूर्व सांसद के माध्यम से भारत को संदेश भेजा है कि उनके इरादों पर संदेह न किया जाए, क्योंकि उनके चीन दौरे का उद्देश्य भारतीय हितों को नुकसान पहुंचाना नहीं है।

'दैनिक राजधानी' में प्रकाशित एक खबर में कहा गया है कि प्रचंड ने नेपाली कांग्रेस के एक पूर्व सांसद के माध्यम से भारत को अपने चीन दौरे की जानकारी दे दी थी। पूर्व नेपाली कांग्रेस सांसद की पहचान जाहिर नहीं की गई है।

प्रचंड कल यानी रविवार को चीन के लिए रवाना हुए थे। माओवादी प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री ने नेपाली कांग्रेस के सांसद से कहा है कि उनका चीन दौरे का इरादा भारत के हितों के खिलाफ नहीं है। अखबार के अनुसार नेपाली कांग्रेस के पूर्व सांसद नई दिल्ली जा कर प्रचंड का संदेश देने के बाद वापस लौट चुके हैं।

पिछले साल नेपाल के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद प्रचंड ने पहला विदेशी दौरा चीन का ही किया था। वह बीजिंग में आयोजित ओलंपिक खेलों के समापन समारोह में भाग लेने वहां गए थे और उन्हें एक बयान से यह स्पष्टीकरण देना पड़ा था कि प्रधानमंत्री के तौर पर उनकी पहली राजनीतिक यात्रा भारत की होगी।

बीजिंग रवाना होने से पहले रविवार को त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर प्रचंड ने संवाददाताओं से कहा कि भारत को चाहिए कि वह उनके चीन दौरे को अन्यथा न ले। उन्होंने कहा हमारी पार्टी की नीति दोनों ही पड़ोसी देशों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने की है।
   
प्रचंड ने कहा कि वह सत्तारूढ़ साम्यवादी पार्टी के आमंत्रण पर चीन जा रहे हैं और अगर वापसी के बाद भारत से उन्हें ऐसा निमंत्रण मिलता है तो वह उस पर विचार जरूर करेंगे।
   
प्रचंड के साथ चीन दौरे पर उनके पुत्र प्रकाश, कट्टरपंथी माओवादी नेता मोहन वैद्य और पूर्व विद्रोहियों के विदेश विभाग के प्रमुख कृष्ण बहादुर महारा गए हैं। पिछले माह भारत की विदेश सचिव निरूपमा राव संक्षिप्त दौरे पर जब नेपाल आई थीं, तब प्रचंड हांगकांग चले गए थे। ऐसा प्रतीत हुआ था कि राव से सीधी मुलाकात से बचने के लिए प्रचंड हांगकांग गए थे। राव के दौरे के एक दिन पहले ही हांगकांग गए प्रचंड ने वहां चीनी अधिकारियों से मुलाकात की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत को प्रचंड का संदेश, न करें इरादों पर संदेह