DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डेयरडेविल्स ने बड़ी जीत से रखी उम्मीदें कायम

डेयरडेविल्स ने बड़ी जीत से रखी उम्मीदें कायम

तूफानी तेवरों के लिये मशहूर वीरेंद्र सहवाग और दिनेश कार्तिक की चमकदार पारियों के बाद आस्ट्रेलियाई डर्क नानेस और उनके अनुभवी हमवतन ग्लैन मैकग्रा की दमदार गेंदबाजी से दिल्ली डेयरडेविल्स ने रविवार को यहां श्रीलंकाई टीम वायम्बा को 50 रन से करारी शिकस्त देकर चैंपियन्स लीग टवेंटी20 टूर्नामेंट के अगले दौर के लिए लगभग क्वालीफाई कर लिया।
    
सहवाग ने 42 गेंद पर दस चौकों और एक छक्के की मदद से 66 और कार्तिक ने 41 गेंद पर 61 रन की तूफानी पारी खेली जिसमें पांच चौके और अजंता मेंडिस पर लगाये गये तीन छक्के शामिल हैं। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिये 51 गेंद पर 67 रन की साझेदारी की जिससे पिछले मैच में 98 रन बनाने वाली डेयरडेविल्स ने पांच विकेट पर 170 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया।
    
फिरोजशाह कोटला की पिच पर जिस तरह से गेंद नीची रह रही थी उसे देखकर वायम्बा के सामने पहाड़ जैसा लक्ष्य था और उसकी पारी की शुरुआत से ही किसी समय ऐसा नहीं लगा कि वह जीत के लिये खेल रही है। अनुभवी महेला जयवर्धने ने एक छोर संभाले रखा और 53 रन बनाये लेकिन वायम्बा की टीम सात विकेट पर 120 रन ही बना पायी। नानेस ने 24 रन देकर चार जबकि मैकग्रा ने 20 रन देकर दो विकेट लिये।
    
डेयरडेविल्स पर विक्टोरिया बुशरेंजर्स के हाथों पहले मैच में हार से खतरा मंडरा रहा था लेकिन अब उसका अगले दौर में पहुंचना लगभग तय है। ग्रुप डी का आखिरी मैच 13 अक्तूबर को वायम्बा और विक्टोरिया के बीच खेला जाएगा जिससे तस्वीर साफ होगी।

कोटला की पिच के बदले हुए मिजाज से बल्लेबाज आतंकित हैं लेकिन कंधे की चोट से उबरकर वापसी करने वाले सहवाग जब लय में होते हैं तो उनके लिये पिच का मिजाज या प्रतिद्वंद्वी कोई मायने नहीं रखता।
    
डेयरडेविल्स ने बल्लेबाजी क्रम में बदलाव किया और सहवाग के साथ तिलकरत्ने दिलशान को पारी का आगाज करने के लिये भेजा लेकिन यह श्रीलंकाई बल्लेबाज और कप्तान गौतम गंभीर जल्द ही पवेलियन लौट गये। सहवाग भी जब 16 रन पर थे तब वायम्बा के कप्तान जेहान मुबारक ने उनका मुश्किल कैच छोड़ा और दायें हाथ के इस बल्लेबाज ने इसका पूरा फायदा उठाया।
    
सहवाग ने जिस पहली गेंद का सामना किया उसे स्ट्रेट ड्राइव से चार रन के लिये भेजकर श्रीलंकाई टीम को आगाह कर दिया था। इसुरू उडाना के ही अगले ओवर में उन्होंने मिड आन और थर्ड मैन पर चौके जमाये और फिर फारवेज महरूफ का स्वागत दो चौकों से किया। सहवाग को बीच में वायम्बा के विकेटकीपर समीरा डी जोएसा से टकराने के कारण दर्द सहना पड़ा लेकिन इसके अगले ओवर में उन्होंने कौशल लोकुराची की गेंद पर लांग आन पर छक्का जड़ा और फिर उडाना की गेंद चार रन के लिये भेजकर अपना सातवां अर्धशतक पूरा किया।
    
कार्तिक ने भी महरूफ और लोकुराची को कड़ा सबक सिखाया लेकिन जयवर्धने जैसे कुशल क्षेत्ररक्षक के सामने सहवाग को रन के लिये बुलाने का उनका फैसला घातक साबित हुआ। सहवाग समय पर क्रीज पर नहीं पहुंच पाये और उनकी चमकदार पारी का दुर्भाग्यपूर्ण अंत हुआ ।

कार्तिक ने दर्शकों का जोश नहीं गिरने दिया तथा मेंडिस पर लांग आन व मिडविकेट पर लगातार तीन छक्के जमाकर अपना तीसरा टवेंटी20 अर्धशतक पूरा किया। इसी ओवर में हालांकि वह स्टंप आउट हो गये। इसके बाद ओवैस शाह ने दस गेंद पर 18 रन की तेज पारी खेली। वायम्बा की तरफ से वेलगेदारा और मेंडिस ने दो- दो विकेट लिये।
    
सहवाग और कार्तिक ने दर्शकों में जो जोश जगाया उसे नानेस और मैकग्रा ने चरम पर पहुंचाया। बायें हाथ के इस तेज गेंदबाज ने महेला उडावते और माइकल वैंडोर्ट के स्टंप उखाड़े लेकिन अनुभवी मैकग्रा फिर से अपनी सटीक गेंदबाजी का प्रभाव छोड़ने में सफल रहे।
    
डेयरडेविल्स ने आईपीएल टू सहित 16 मैच के बाद मैकग्रा को खेलने का मौका दिया और घायल पाल कोलिंगवुड की जगह शामिल किये गये 39 वर्षीय इस महान गेंदबाज ने दिखा दिया कि अब भी उनमें वही पुरानी मारक क्षमता है जिसके दम पर एक दशक से अधिक समय तक वह क्रिकेट जगत पर छाये रहे ।
    
मैकग्रा ने अपने दूसरे ओवर में मुबारक और कौशल लोकुराची दोनों के विकेट उखाड़े। दिलशान ने इसके बाद टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ कैच लेकर दर्शकों को बाग-बाग कर दिया। मुबारक ने जब नानेस की गेंद गेंदबाज के पीछे उछाली तो दिलशान ने मिडआफ से दौड़कर गिरते हुए उसे लपका।
    
जयवर्धने ने बीच में कुछ करारे शाट लगाकर वायम्बा को रन रेट में गिरने से बचाने की कोशिश की लेकिन अमित मिश्र पर छक्का जमाकर अर्धशतक पूरा करने के तुरंत बाद वह नानेस के चौथे शिकार बने। उन्होंने 40 गेंद खेली तथा पांच चौके और दो छक्के लगाये।

दिल्ली डेयरडेविल्स और वायम्बा के बीच यहां खेले गये चैंपियन्स लीग टवेंटी़20 टूर्नामेंट के मैच का स्कोर इस प्रकार रहा ।
     
दिल्ली डेयरडेविल्स
तिलकरत्ने दिलशान का मुबारक बो वेलगेदारा 10
वीरेंद्र सहवाग रन आउट 66
गौतम गंभीर एलबीडब्ल्यू बो मेंडिस 03
दिनेश कार्तिक स्टं जोएसा बो मेंडिस 61
ओवैस शाह बो वेलगेदारा 18
मनोज तिवारी नाबाद 03
रजत भाटिया नाबाद 05
अतिरिक्त 04
कुल : 20 ओवर में, पांच विकेट पर : 170
विकेट पतन : 1-27, 2-45, 3-112, 4-156, 5-164
गेंदबाजी :
वेलगेदारा 4-1-24-2
उडाना 4-0-38-0
महरूफ 4-0-34-0
मेंडिस 4-0-35-2
लोकुराची 3-0-31-0
मुबारक 1-0-7-0

वायम्बा
जीवंता कालुतुंगा का शाह बो मिश्र 10
महेला उदावते बो नानेस 02
माइकल वैंडोर्ट बो नानेस 09
महेला जयवर्धने का दिलशान बो नानेस 53
जेहान मुबारक बो मैकग्रा 00
कौशल लोकुराची बो मैकग्रा 05
फारवेज महरूफ का दिलशान बो नानेस 03
समीरा डि जोएसा नाबाद 21
इसुरू उडाना नाबाद 11
अतिरिक्त 07
कुल : 20 ओवर में, सात विकेट पर : 120
विकेट पतन : 1-4, 2-18, 3-31, 4-31, 5-36, 6-52, 7-105
गेंदबाजी
नेहरा 4-0-23-0
नानेस 4-0-24-4
मैकग्रा 4-0-20-2
मिश्र 4-1-18-1
दिलशान 2-0-19-0
भाटिया 2-0-13-0

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डेयरडेविल्स ने बड़ी जीत से रखी उम्मीदें कायम