DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिगड़ी महिला छात्रवास की हालत

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के महिला छात्रावास की हालत बिगड़ गई है। छात्रावास की दजर्नों छात्राएं बीमार हैं। वे बुखार, खांसी, डायरिया, वायरल, मलेरिया जैसी बीमारियों से पीड़ित हैं। दशहरा के अवकाश के बाद विवि लौटी छात्राओं के बीमार पड़ जाने से साथी छात्राओं में भी दहशत है। सूचना के बावजूद विवि प्रशासन ने छात्राओं के इलाज की कोई व्यवस्था नहीं की है।

महिला छात्रावास में बीमार छात्राओं की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। छात्रावास की एकमात्र डिस्पेंसरी में तैनात डॉक्टर कभी कभार ही आती हैं। छात्राओं का कहना है कि वह कब आती और कब जाती हैं, पता ही नहीं चलता। डिस्पेंसरी में काम करने वाले कर्मचारी छात्राओं को सिरदर्द जैसी बीमारियों की दवा देकर टरका देते हैं। छात्राएं सोमवार को डीन (छात्र कल्याण) प्रो.आरके सिंह से मिलकर अपनी बात रखेंगी।

छात्राओं का कहना है कि पहले से ही वे मेस और साफ सफाई की समस्याएं ङोल रहीं हैं। छात्रावास में साफ पानी की भी व्यवस्था नहीं है।  इस बारे में सरोजिनी नायडू छात्रावास की अधीक्षिका डॉ.चंदा देवी का कहना है कि कोई बीमार लड़की उनसे नहीं मिली है। ऐसी कोई शिकायत उनके पास तक नहीं आई है। छुट्टियों में भी हॉस्टल में साफ-सफाई होती रहती है।

डिस्पेंसरी में डॉक्टर न बैठने की शिकायत पर उनका कहना है कि इस बारे में उन्होंने कई बार विवि प्रशासन को भी लिखकर दिया है। लेकिन कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिगड़ी महिला छात्रवास की हालत