DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फैक्ट्री का निर्माणाधीन भवन ढ़हने से एक की मौत, 13 घायल

शहर में भवनों के गिरने का सिलसिला नहीं थम रहा। रविवार को एक स्टील फैक्ट्री का निर्माणाधीन भवन ढ़ह गया। हादसे में मलबे के नीचे दबने से एक मजदूर की मौत हो गई। ठेकेदार समेत 13 मजदूर बुरी तरह जख्मी हो गए। जिन्हें इलाज के लिए बादशाह खान अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस व फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंच गई। बचाव कार्य काफी देर से शुरु हुआ। फैक्ट्री में अंदर जाने का कोई रास्ता न होने के चलते कई घंटे कड़ी मशक्कत के बाद भी मलबा साफ नहीं किया जा सका। खबर लिखे जाने तक बचाव कार्य जारी रहा था।


मुजेसर थाना क्षेत्र के औद्योगिक सेक्टर-24 के प्लॉट नंबर-222 स्थित मेल्को स्टील एण्ड वॉयर इंडस्ट्रीज के पिछले हिस्से में कई महीनों से नए भवन का निर्माण चल रहा था। करीब 25 फुट (डबल हाइट) उंचे पिलर पर रविवार सुबह करीब 11.35 बजे लेंटर डाला जा रहा था। उस समय वहां पचास से ज्यादा मजदूर काम कर रहे थे। कुछ छत के ऊपर तो कुछ नीचे सटरिंग ठीक कर रहे थे। लेंटर लगभग पड़ चुका था। इसी बीच अचानक बल्लियां खिसक जाने के चलते लेंटर भरभराकर ढ़ह गया। इससे मलबे के नीचे करीब बीस मजदूर दब गए। जिसमें बिहार, छपरा के खुदरिया निवासी श्रीराम महतो की मौत हो गई। झांसी के ओमान(40), बिहार के विगनराम(30), किशन(30), एनएच-3 के ठेकेदार राम सहाय(40), हरी(27), एसी नगर के मुकेश(20), हरीश(25), रंजीत यादव, रणजीत, राजकुमार(20), सारन का मुख्तयार(21), सेक्टर-9 के पप्पू व भोला गंभीर रुप से जख्मी हो गए। गंभीर हालत में इन्हें बी.के.अस्पताल में दाखिल कराया गया है। घटना की सूचना पर नगर निगम कमिश्नर सी.आर.राणा समेत डीसीपी एनआईटी प्रवीन कुमार मेहता मौके पर पहुंच गए। डीसीपी मेहता ने बताया कि लापरवाही के चलते फैक्ट्री मालिक जगदीश रातरा समेत ठेकेदार राम सहाय के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फैक्ट्री का निर्माणाधीन भवन ढ़हने से एक की मौत